LPG Cylinder Price: हरियाणा में सस्‍ता हुआ रसोई गैस सिलेंडर, जानें कितने घटे दाम

हरियाणा में गैस सिलेंडर 10 रुपये सस्ता हुआ है.

हरियाणा में गैस सिलेंडर 10 रुपये सस्ता हुआ है.

LPG Cylinder Price in Haryana: देशभर में 14 करोड़ घरेलू एलपीजी सिलेंडर की प्रति माह खपत होती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 1, 2021, 11:36 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. देशभर में रसोई गैस सिलेंडर की खुदरा कीमतों (LPG Retail Prices) में कटौती की गई है. तेल और गैस मार्केटिंग कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOC) ने एलपीजी सिलेंडर पर 10 रुपये की कटौती का ऐलान किया है. जबकि नई दरें आज यानी 1 अप्रैल 2021 से लागू हो गई हैं. इसके साथ हरियाणा के गुरुग्राम (Gurugram) में एलपीजी सिलेंडर के दाम 828 रुपये से घटकर अब 818 रुपये हो गए हैं. एलपीजी में कटौती का फायदा पूरे देश के ग्राहकों को मिलेगा. इससे पहले पेट्रोल और डीजल के दामों में कटौती (Petrol-Diesel Prices Cut) की गई थी.

बता दें कि कोरोना काल में अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्चे तेल और पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में काफी उथल-पुथल रही. दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियों के शुरू होने से नवंबर 2020 के बाद से ही इसका लगातार अपट्रेंड देखने को मिला. गौरतलब है कि भारत अपनी पेट्रोलियम जरूरतों को पूरा करने के लिए करीब 85 फीसदी क्रूड ऑयल आयात करता है. लिहाजा, अंतरराष्‍ट्रीय कीमतों में इजाफा होने से पेट्रोलियम उत्पादों की घरेलू कीमत में बढ़ोतरी देखने को मिली थी.

हालांकि, एशिया और यूरोप में कोविड-19 के बढ़ते मामलों व वैक्सीन के साइड इफेक्ट के बीच अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्चे तेल तथा पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में साल के तीसरे महीने में नरमी देखने को मिल रही है. यही कारण है कि ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने पिछले कुछ दिन के भीतर डीजल और पेट्रोल के खुदरा बिक्री मूल्य में कमी की है.

देश की बड़ी आबादी को फायदा मिलेगा
बता दें कि देशभर में 14 करोड़ घरेलू एलपीजी सिलेंडर की प्रति माह खपत होती है. एलपीजी के दाम घटने से देश की बड़ी आबादी को फायदा मिलेगा. गरीबों तक स्वच्छ ईंधन यानी एलपीजी सिलेंडर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने उज्‍ज्‍वला योजना की शुरूआत की थी. एलपीजी सिलेंडर के दाम कम होने से इन उपभोक्ताओं को भी लाभ मिलेगा. साल 2014 में जहां देशभर में एलपीजी का दायरा 55 फीसदी था, वो अब बढ़कर 99 फीसदी हो गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज