हरियाणा Vs दिल्ली: केजरीवाल पर खट्टर का पलटवार; बोले- मैंने ये नहीं कहा था कि...

सीएम अरविंद केजरीवाल के जवाब पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने रखा अपना पक्ष. (फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के जवाब के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर ने अपना पक्ष रखा है. उन्होंने सफाई दी है कि मैंने ऐसा नहीं कहा कि वैक्सीनेशन जल्दी-जल्दी नहीं करनी चाहिए. जितना स्टॉक उपलब्ध है उसके अनुसार वैक्सीनेशन होना चाहिए.

  • Share this:
चंडीगढ़. वैक्सीनेशन के मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बीच अब भी आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के जवाब के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर ने अपना पक्ष रखा है. उन्होंने सफाई दी है कि मैंने ऐसा नहीं कहा कि वैक्सीनेशन जल्दी-जल्दी नहीं करनी चाहिए. जितना स्टॉक उपलब्ध है उसके अनुसार वैक्सीनेशन होना चाहिए. वैसे भी वैक्सीनेशन और ब्लैक फंगस की दवा की कमी की बाबत हमें गृहमंत्री अमित शाह को जानकारी देने का निर्देश दिया गया है. खट्टर ने कहा कि दिल्ली को हरियाणा से ज्यादा वैक्सीन मिली है, केवल राजनीति करना ठीक बात नहीं है. उन्होंने जोड़ा कि दिल्ली को देशभर में सामान्य बंटवारे से ज्यादा ही वैक्सीन मिल रही है. मैंने वैक्सीन न लगाने की बात नहीं कही है, लेकिन अगर दिल्ली के मुख्यमंत्री इस पर राजनीतिक मुद्दा बनाना चाहते हैं तो यह उनका स्वभाव है. केंद्र सरकार लगातार ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन उपलब्ध कराने की व्यवस्था कर रही है.

आपको बता दें कि दिल्ली में वैक्सीन की कमी को लेकर बीते कई दिनों से अरविंद केजरीवाल केंद्र पर निशाना साध रहे थे. इस मुद्दे पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने केजरीवाल पर घटिया राजनीति का आरोप लगाया था. उनके बयान वाला एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें उन्हें कहते सुना जा सकता है कि कैसे स्टॉक के मुताबिक वैक्सीनेशन की प्लानिंग की जानी चाहिए. उनके इस वीडियो को ट्वीट करते हुए अरविंद केजरीवाल ने बहुत जोरदार हमला किया था. दिल्‍ली के सीएम ने अपने ट्वीट में लिखा, 'खट्टर साहब, वैक्सीन से ही लोगों की जान बचेगी. जितनी जल्दी वैक्सीन लगेगी, उतने लोग सुरक्षित होंगे. मेरा मकसद वैक्सीन बचाना नहीं, लोगों की जान बचाना है.'

अरविंद केजरीवाल का ट्वीट और मनोहर लाल खट्टर का बयान



अरविंद केजरीवाल के इस ट्वीट के बाद मनोहर लाल खट्टर अपने बयान का बचाव करते नजर आए. उन्होंने कहा कि मैंने यह नहीं कहा था कि वैक्सीनेशन जल्दी-जल्दी नहीं होना चाहिए. मैंने तो यह बताया था कि जितना स्टॉक उपलब्ध है उसके अनुसार वैक्सीनेशन होना चाहिए.