Home /News /haryana /

ऑनलाइन गेम्स की लत: नाबालिग ने घर से चुराए 17 लाख रुपये, 3 दोस्तों को दिए iPhone

ऑनलाइन गेम्स की लत: नाबालिग ने घर से चुराए 17 लाख रुपये, 3 दोस्तों को दिए iPhone

बेटे ने ही चुराए थे पिता के खाते से 17 लाख रुपये

बेटे ने ही चुराए थे पिता के खाते से 17 लाख रुपये

Chandigarh News: शिकायतकर्ता के बेटे को ऑनलाइन गेम में डिस्काउंट दिलाने का झांसा देकर दोनों ने उससे पैसे लाने के लिए कहा. शिकायतकर्ता के बेटे ने गेम खरीदने का इरादा किया और घर से रुपये लाकर नाबालिगों को दे दिए. तीन नाबालिगों ने पहले आईफोन और कपड़े खरीदे.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. ऑनलाइन गेम्स की लत में बच्चे अपने ही घरों में चोरी कर रहे हैं. ऐसा ही एक मामला चंडीगढ़ (Chandigarh) के मनिमाजरा में सामने आया है. जहां ऑनलाइन गेम (Online Game) की आईडी खरीदने के लिए फार्मा कंपनी के मालिक के बेटे ने ही अपने पिता के 17 लाख रुपये चोरी किए थे. पुलिस (Police) ने इस मामले में चार नाबालिग समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. पकड़े गए एक आरोपी की पहचान बहलाना निवासी सूरज उर्फ विंटर के रूप में हुई. तीन नाबालिगों ने चोरी के रुपयों से आईफोन खरीदा और हवाई सफर किया.

बता दें कि दवा व्यापारी के नाबालिग बेटे ने ऑनलाइन गेम्स पब-जी, फ्री फायर और कार रेसिंग के लिए आइडी खरीदने के चक्कर में घर से 17 लाख रुपये चोरी किए थे. नाबलिग के साथ उसका बुआ के बेटा वह भी नाबालिग और एक नाबालिग दोस्त भी शामिल है. जबकि उनसे पैसे ऐंठने वाला बहलाना निवासी 27 वर्षीय सूरज उर्फ विंटर को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आरोपिट विंटर नाबालिगों को ऑनलाइन गेम्स में आइडी बनाने के लिए उनसे मोटी रकम लेता था.

पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर दस लाख 22 हजार 500 रुपये और तीन आईफोन बरामद किए हैं. मनीमाजरा थाना पुलिस ने चारों नाबालिगों को वीडियो कांफ्रेस के जरिए अदालत में पेश किया. अदालत ने सभी नाबालिग को परिजनों के हवाले करने के आदेश दिए हैं. वहीं पुलिस ने ऑनलाइन गेम की आईडी बेचने वाले आरोपी सूरज को रविवार को जिला अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड हासिल किया.

ये है मामला

2 जनवरी को दवा व्यापारी हुकुम चंद ने पुलिस को शिकायत दी थी कि उसके घर से 17 लाख रुपये चोरी हुए हैं. शिकायत पर मनीमाजरा थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ तहत केस दर्ज किया था. जबकि, मामला उजागर होने के बाद आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने आइपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी) और 120बी (साजिश) भी जोड़ दी है. शिकायतकर्ता ने बताया कि घर के अंदर बेड में रखे 19 लाख रुपयों में से 17 लाख रुपये चोरी गायब हो गए हो गया.

पुलिस ने ऐसे किया खुलासा

पुलिस ने शक के आधार पर घर पर काम करने वाली नौकरानी समेत अन्य से भी पूछताछ की थी. इसके बाद एसएसपी कुलदीप चहल के निर्देशानुसार डीएसपी एसपीएस सोंधी के सुपरविजन में एसएचओ नीरज सरना सहित एक टीम बनाई गई. टीम ने जांच की तो दवा व्यापारी का बेटा, उसका भांजा एक अन्य नाबालिग सहित आरोपित विंटर को गिरफ्तार किया गया.

Tags: Chandigarh news, Online game

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर