• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • सुर्खियां: अर्जुन ने दी दुष्यंत-दिग्विजय चौटाला को चुनौती, JJP को पार्टी के रूप में मिली मान्‍यता

सुर्खियां: अर्जुन ने दी दुष्यंत-दिग्विजय चौटाला को चुनौती, JJP को पार्टी के रूप में मिली मान्‍यता

अर्जुन चौटाला

अर्जुन चौटाला

अर्जुन ने साफ कहा कि भले ही दोनों उनके ताऊ के बेटे और उनके भाई हैं. लेकिन अक्टूबर 2018 में इनेलो से अलग होने के बाद उन्होंने खुद भाईचारा खत्म किया है.

  • Share this:
    प्रदेश में इनेलो व जेजेपी के बीच तल्खी और तेज होती जा रही है. अमर उजाला ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित करते हुए लिखा है कि अजय और अभय तो पहले ही आमने-सामने हैं. अब उनके बच्चों के बीच भी तकरार बढ़ती जा रही है. इसी के चलते जेजेपी की छात्र इकाई इंडियन नेशनल स्टूडेंट आर्गेनाइजेशन को टक्कर देने के लिए जहां इनेलो की भी छात्र इकाई आईएनएलडी स्टूडेंट आर्गेनाइजेशन (आईसो) का उदय हो चुका है. वहीं आईसो के अध्यक्ष अर्जुन चौटाला ने भाइयों दुष्यंत-दिग्विजय को भी चुनौती दे दी है.

    अमर उजाला ने आगे लिखा है कि अर्जुन ने साफ कहा कि भले ही दोनों उनके ताऊ के बेटे और उनके भाई हैं. लेकिन अक्टूबर 2018 में इनेलो से अलग होने के बाद उन्होंने खुद भाईचारा खत्म किया है. अर्जुन ने कहा कि दुष्यंत कहते है कि उनकी दादा से तीन बार मुलाकात हुई है, ये भी झूठ हैं. उन्होंने कहा कि उनके दादा जब बहुत बीमार थे, तब भी दुष्यंत उनसे मिलने अस्पताल नहीं आए थे.

    जेजेपी को पार्टी के रूप में मिली मान्‍यता, लेकिन पूरी करनी होगी यह बड़ी शर्त

    इस शीर्षक से प्रकाशित खबर में दैनिक जागरण ने लिखा है कि दुष्‍यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी को चुनव आयोग ने राजनीतिक दल के रूप में पंजीकृत कर लिया है. इसके साथ ही उसे चुनाव निशान नहीं मिला है. चुनाव चिह्न के लिए आयोग ने बड़ी शर्त लगा दी है. इसके लिए पार्टी को लोकसभा चुनाव में हरियाणा के 10 सीटों में से आधी यान‍ि पांच पर अपने उम्‍मीदवार मैदान में उतारने पड़ेंगे.

    दूसरी बेटी होने पर पिता करता था मारपीट, 6 माह की बच्ची के शरीर पर जख्मों के कई निशान

    वहीं दैनिक जागरण ने इस शीर्षक से प्रकाशित खबर में लिखा है कि जगाधरी की शंकर कॉलोनी में एक पिता अपनी छह माह की बच्ची को पीटता था. पत्नी रोकती थी तो उसे भी पीटता था. पिता की मारपीट के कई जख्म बच्ची के शरीर पर हैं. इसकी सूचना आशा वर्कर को मिली. उसने इस बारे में पीओ सरिता चौहान को जानकारी दी. इसके बाद चाइल्ड प्रोटेक्शन की टीम टीम ने बच्ची को रेस्क्यू किया और सीडब्ल्यूसी के सामने पेश किया. सीडब्ल्यूसी के आदेश पर बच्ची को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया है.

    ये भी पढ़ें:-

    जींद उपचुनाव में वोट नहीं देने पर सांसद राजकुमार सैनी ने कार्यकर्ता को कहे अपशब्द

    लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम पर पड़ेगा पाकिस्‍तान से तनाव का असर, चुनाव आयोग ने दिया ये जवाब

    समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट: 14 मार्च को फैसला सुनाएगी NIA अदालत

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज