लाइव टीवी

मलिक के लगाए आरोपों पर ओपी धनखड़ बोले- 'मुझे उनके किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं'

News18 Haryana
Updated: January 19, 2020, 7:38 AM IST
मलिक के लगाए आरोपों पर ओपी धनखड़ बोले- 'मुझे उनके किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं'
पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धनखड़

पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ (Om Prakash Dhankar) ने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक (Yashpal malik) के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि यशपाल मलिक भाड़े के इमेज डेमेजर हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली/चंडीगढ़. नई दिल्ली (New Delhi) में पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ (Om Prakash Dhankar) ने अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक (Yashpal malik) के आरोपों का खंडन करते हुए कहा "यशपाल मलिक भाड़े के इमेज डेमेजर हैं. मुझे उनके किसी भी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं. हरियाणा का सारा समाज और खापें जानती हैं कि ओपी धनखड़ की भूमिका क्या थी?" धनखड़ ने कहा कि मलिक को हरियाणा की शांति बर्दाश्त नहीं होती इसलिए ऐसे ही चीजों को भड़काने का प्रयास करते हैं, सब जानते हैं उनकी भूमिका क्या है?

पूरा मामला

बता दें कि अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक ने पूर्व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ पर संगीन आरोप लगाते हुए रोहतक में कहा था कि हिंसक जाट आरक्षण आंदोलन के लिए ओपी धनखड़ खुद जिम्मेदार हैं. रोहतक में उन्होंने कहा था कि धनखड़ के मौसा ने आंदोलन को तेज करवाया था. मलिक ने हिंसा के पीछे धनखड़ की साजिश होने का आरोप लगाया है.

'धनखड़ अपने मौसा को आंदोलन में नहीं लाते तो ये नौबत नहीं आती'

मलिक ने कहा कि धनखड़ अगर अपने मौसा को आंदोलन में नहीं लगाते तो ये नौबत ही नहीं आती और आंदोलन होता ही नहीं. मलिक ने आरोप लगाते हुए कहा कि अगर धनखड़ के मौसा आंदोलन की आवाज नहीं उठाते तो कैप्टन का घर नहीं जलता.

वहीं, दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर मलिक ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री अब भी इस मसले पर पॉजिटिव नहीं होते, तो वहां भी इनकी पार्टी पर असर पड़ सकता है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में 10-15 लाख वोटर हरियाणा से ही हैं, उनसे बड़ा फर्क पड़ेगा.

रिपोर्ट: पंकज कपाहीये भी पढ़ें:- 'खुद को अनुशासनात्मक पार्टी बताने वाली BJP में CID को लेकर विवाद चल रहा'

ये भी पढ़ें:- सोनीपत के इस स्कूल में ​पहुंचे डिप्टी DEO, ना छात्र और न ही शिक्षक मिले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2020, 7:38 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर