दिल्ली में लगेगी हरियाणा कांग्रेस संगठन के गठन पर मुहर, मंथन तेज

दिल्ली में हुई बैठक मेंं हुआ मंथन

दिल्ली में हुई बैठक मेंं हुआ मंथन

Haryana Congress: हरियाणा में कांग्रेस को मजबूत करने के लिए पार्टी ने शुरू की कवायद. जिलाअध्यक्षों के लिए तीन-तीन नामों के पैनल बनाए जाएंगे. आलाकमान के निर्णय के आधार पर नामों को मिलेगी मंजूरी.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा में कांग्रेस मजबूत विपक्ष की भूमिका में है. लेकिन पार्टी की मजबूती पर उठते सवालों के बीच कांग्रेस ने संगठन विस्तार की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है. दिल्ली में पर्यवेक्षकों के साथ पार्टी प्रभारी विवेक बंसल ने मंथन किया और संगठन विस्तार पर चर्चा हुई. हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा के मुताबिक ग्राउंड लेवल पर किन्हें क्या जिम्मेदारी सौंपी जाएगी इस पर फीडबैक लिया गया. अब आगे केंद्रीय आलाकमान को रिपोर्ट सौंपी जाएगी.

इधर, हरियाणा में बीजेपी नेताओं के विरोध पर कुमारी सैलजा ने कहा कि विपक्ष पर आरोप लगाने की बजाए बीजेपी अपने गिरेबां में झांके. तीन कृषि कानूनों को लेकर सैलजा ने बीजेपी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की रणनीति ना सिर्फ पार्टी की मजबूती पर है बल्कि किस तरह से सरकार को घेरा जाए इसका खाका भी तैयार हो रहा है.

हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी विवेक बंसल का कहना है कि पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट पर प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा और कांग्रेस प्रभारी मंथन करेंगे. जिलाअध्यक्षों के लिए तीन-तीन नामों के पैनल बनाए जाएंगे. पैनल में से जिला अध्यक्ष और बाकी नियुक्तियों को फाइनल करने का काम पार्टी आलाकमान करेंगी.

इन नियुक्तियों में विवेक बंसल के सामने सबसे बड़ी चुनौती प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा के साथ ही नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र हुड्डा व अन्य बड़े नेताओं को साधना है. विवेक बंसल का कहना है कि सबसे मजबूत नेता को पार्टी आलाकमान जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपेगा. पैनल में शामिल दो अन्य नामों को जिला कार्यकारिणी में अहम पद सौंपा जाएगा. बंसल सभी को साथ लेकर नियुक्तियों को सिरे चढ़ाना चाहते हैं. वे नहीं चाहते कि बेवजह कोई विरोध हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज