Haryana Municipal Election 2018: प्रत्याशियों की किस्मत EVM में कैद, 19 को आएंगे नतीजे

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

मेयर और पार्षदों की किस्मत अब ईवीएम में कैद हो गई है. 19 दिसंबर को इन चुनावों के नतीजें आएंगे. बता दें कि इन चुनावों में भाजपा और इनेलो बसपा अपने चुनाव चिन्ह पर लड़ रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2018, 5:41 PM IST
  • Share this:
हरियाणा के पांच नगर निगमों और दो नगर पालिका समितियों के लिए मतदान हुआ. सुबह 7.30 बजे शुरू हुई वोटिंग शाम 4.30 बजें खत्म हुई. पांच नगर निगम हिसार, करनाल, पानीपत, रोहतक और यमुनानगर हैं जबकिदो नगर पालिका समिति फतेहाबाद में जखाल मंडी और कैथल में पुंडरी हैं. इस चुनाव के लिए 1,292 मतदान केंद्र बनाये गये थे.



मेयर और पार्षदों की किस्मत अब ईवीएम में कैद हो गई है. 19 दिसंबर को इन चुनावों के नतीजें आएंगे. राज्य निर्वाचन आय़ोग हरियाणा के रिपोर्ट की मुताबिक, अब तक हुए मतदान में हिसार में 58.4, जाखल मंडी में 89.1, करनाल में 59.6, पानीपत में 56.6, पूंडरी में 81.8, रोहतक में 57.9 और यमुनानगर में 61.1 प्रतिशत मतदान हुआ.



हरियाणा नगर निगम चुनाव: NOTA जीता तो ये होगा परिणाम





बता दें कि इन चुनावों में भाजपा और इनेलो बसपा अपने चुनाव चिन्ह पर लड़ रहे थे, तो वहीं कांग्रेस ने अपना कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं उतारा और आजाद उम्मीदवारों को अपना समर्थन दिया.
यमुनानगर में आईटीआई और शादीपुर में बनाए गए पोलिंग बूथ पर तीन फर्जी वोट डाले गए हैं. आईटीआई के पोलिंग बूथ पर जब दो महिलाएं वोटिंग करने पहुंची तो उन्हें पता चला कि पहले ही उनका वोट कोई और डालकर जा चुका है. इसी तरह का वाकया शादीपुर पोलिंग बूथ पर भी हुआ है. यमुनानगर में वार्ड-16 के उम्मीदवार इस्लाम गुज्जर पर भाजपा के पोलिंग एजेंट संजय शर्मा के साथ मारपीट करने का आरोप लगाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज