• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • पंजाब विधानसभा सत्र का अंतिम दिन भी चढ़ा हंगामे की भेंट

पंजाब विधानसभा सत्र का अंतिम दिन भी चढ़ा हंगामे की भेंट

Photo- By Chaman Lal (News18India)

Photo- By Chaman Lal (News18India)

पंजाब विधान सभा सत्र का 8वां दिन भी सदन की कार्यवाही के दौरान जमकर हंगामा देखने को मिला. अकाली दल विधायक काली पट्टियां बांधकर विधान सभा पहुंचे और एक दिन पहले हुए आम आदमी पार्टी के विधायकों से साथ धक्कामुक्की विरोध किया. वहीं आम आदमी पार्टी के विधायकों ने भी सदन में हंगामा करते हुए वाकआउट किया.

  • Share this:
पंजाब विधान सभा सत्र का 8वां दिन भी सदन की कार्यवाही के दौरान जमकर हंगामा देखने को मिला. अकाली दल विधायक काली पट्टियां बांधकर विधान सभा पहुंचे और एक दिन पहले हुए आम आदमी पार्टी के विधायकों से साथ धक्कामुक्की विरोध किया. वहीं आम आदमी पार्टी के विधायकों ने भी सदन में हंगामा करते हुए वाकआउट किया.

आम आदमी पार्टी और अकाली दल ने विधान सभा से वाक आउट कर सदन के बाहर भी नारेबाजी की. इस दौरान अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल और आम आदमी पार्टी के विधायक दल के नेता सुखपाल खैरा ने इस मामले को लोगों के बीच ले जाने की बात कही.

वॉक आउट के बाद आम आदमी पार्टी के विधायकों ने विधान सभा के बहार समान्तर सत्र लगाया. अकाली दल ने इस मुद्दे को  लेकर राजयपाल से मिलने की मिलने की बात कही. 4 बजे अकाली के विधायक राजयपाल से मिलकर स्पीकर को बर्खास्त करने की मांग करेंगे.

वाक आउट के बाद सुखबीर बादल ने कहा लोकतंत्र का स्तंभ विधानसभा होती है जहां विपक्ष और सत्ता पक्ष विचार करती है.  उन्होंने कहा की सदन का कस्टोडियल स्पीकर चुना जाता है , कुर्सी पर बैठने के बाद स्पीकर किसी पार्टी का नहीं रहता. हाउस का कस्टोडियल गुंडागर्दी पर उतर आए तो सदन का क्या होगा.

उन्होंने कहा की विपक्ष ओर सत्ता पक्ष की सुरक्षा व आवाज की सुरक्षा करता है. उन्होंने कहा की स्पीकर हिटलर गदाफी जैसी हरकतों पर आ गए है. आवाज पांच दिन के लिए कुचल सकते है मगर जनता के बिच जायेंगे. अकाली दल मामूली पार्टी नहीं है, आम आदमी पार्टी के विधायकों के साथ बेइंसाफी हुई है ,हमने उनका हाथ पकड़ा है.

उन्होंने कुछ दिन पहले दिए गये मुख्यमंत्री के बयान  निंदा करते हुए कहा की सीएम ने अकाल तख्त के हमले को भी जायज ठहराया था.  प्रकाश सिंह बादल खुद सदन में खड़े होकर माफी मांगते थे, पूरे हाउस से माफी मांगी जानी चाहिए. सीएम सदन के नेता है उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से सीखना चाहिए  सदन से माफी मांगनी चाहिए. सुखबीर ने कहा पार्टी की मीटिंग में तय की जाएगी आगमी रणनीति.

वहीं आम आदमी पार्टी के विधायक सुखपाल खेरा ने कहा की आम आदमी पार्टी के विधायकों ने समांतर सदन लगाया है. उन्होंने कहा की सरकार के सभी मामलो जिसमे राणा गुरजीत सिंह और स्पीकर को लेकर बैनर लगाए जा रहे है. उन्होंने कहा की इस मामले को उठाते रहेंगे.

सदन में आम आदमी पार्टी के विधायकों के साथ हुई धक्का मुक्की को अकाली दल और आम आदमी पार्टी की तरफ से बड़ा मुद्दा बनाया जा रहा है जिसे जनता के बिच लेकर जाने की बात कही जा रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज