Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    रेप-मर्डर के दोषी राम रहीम को हरियाणा सरकार ने गुपचुप तरीके से दी पैरोल

    राम रहीम रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है.
    राम रहीम रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है.

    डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) ने अपनी बीमार मां से मिलने के लिए एक दिन की पैरोल मांगी थी. उन्हें सुनारिया जेल से गुरुग्राम अस्पताल तक भारी सुरक्षा के बीच ले जाया गया. सूत्रों ने बताया कि इस दौरान हरियाणा पुलिस की तीन टुकड़ियां वहां तैनात रहीं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 7, 2020, 5:17 PM IST
    • Share this:
    रोहतक. रेप और हत्या के जुर्म में उम्रकैद की सजा काट रहे हरियाणा के डेरा सच्चा सौदा के मुखिया गुरमीत राम रहीम को बीते दिनों एक दिन की पैरोल दी गई थी. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, राम रहीम को 24 अक्टूबर को ही पैरोल दी गई थी, जिसकी सूचना अब बाहर आई है.

    डेरा प्रमुख रेप और हत्या मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद रोहतक की जेल में बंद है. सूत्रों ने बताया कि राम रहीम ने अपनी बीमार मां से मिलने के लिए एक दिन का पैरोल मांगी थी. वह गुरुगाम के एक अस्पताल में भर्ती हैं.

    राम रहीम की सुरक्षा में पुलिस की तीन टुकड़ियां तैनात रही

    डेरा प्रमुख को सुनारिया जेल से गुरुग्राम अस्पताल तक भारी सुरक्षा के बीच ले जाया गया. सूत्रों का कहना है कि राम रहीम 24 अक्टूबर को शाम तक अपनी बीमार मां के साथ रहे थे. सूत्रों ने बताया कि हरियाणा पुलिस की तीन टुकड़ियां तैनात रहीं. एक टुकड़ी में 80 से 100 जवान थे. डेरा चीफ को जेल से पुलिस की एक गाड़ी में लाया गया. बताया जा रहा है कि रोहतक पुलिस को सुरक्षा व्यवस्था का निवेदन मिला था और 24 अक्टूबर को सुबह से लेकर शाम तक सुरक्षा उपलब्ध कराई गई थी.





    जेल मंत्री ने कहा जेल के नियम से मिली पैरोल

    इस मामले में जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला का कहना है कि रामरहीम को उसकी बीमार मां से मिलने के लिए एक दिन की पैरोल दी गयी थी. उन्होंने कहा कि रामरहीम को पैरोल जेल के नियमों के अनुसार ही दी गयी थीं.  चौटाला ने कहा कि रामरहीम को पुलिस की कड़ी सुरक्षा में उसकी मां से मिलवाया गया था. उन्होंने कहा कि रामरहीम का विशेष केस को देखते हुए ज्यादा समय की पैरोल देने के लिए सरकार और कोर्ट से अनुमति लेनी होती है.

    पैरोल पर तरीके पर उठे सवाल

    बताया जा रहा है कि हरियाणा के कुछ वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों को ही इसकी जानकारी थी. इससे पहले भी रामरहीम को पेरोल देने की बातें सामने आई थी. हालांकि, सरकार ने पेरोल देने इनकार कर दिया था, लेकिन अब पेरोल देने के तरीके पर सवाल उठ रह हैं. (इनपुट- चमन शर्मा)
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज