• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • Haryana Weather Update: गर्मी और उमस से राहत जल्द, 48 घंटे बाद हरियाणा में चलेंगी मॉनसूनी हवाएं

Haryana Weather Update: गर्मी और उमस से राहत जल्द, 48 घंटे बाद हरियाणा में चलेंगी मॉनसूनी हवाएं

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि कुल मिलाकर जुलाई में देशभर में अच्छी बारिश होगी. (पीटीआई फाइल फोटो)

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि कुल मिलाकर जुलाई में देशभर में अच्छी बारिश होगी. (पीटीआई फाइल फोटो)

Weather in Haryana: हरियाणा में 9 जुलाई से मॉनसून के आगे बढ़ने की अनुकूल परिस्थितियां बनने की संभावना है. 9 जुलाई रात्रि से 12 जुलाई के बीच हवायों व गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना है.

  • Share this:
हिसार. हरियाणा में गर्मी और उमस (Heat and humidity) से लोग परेशान हैं. गुरुग्राम हरियाणा में बुधवार को सबसे गर्म रहा. गुरुग्राम में अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री दर्ज किया गया. वहीं हिसार में पारा 41.9 डिग्री रहा. अब इस गर्मी से जल्द ही राहत मिलने वाली है. हरियाणा कृष विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के विभागाध्यक्ष डा. मदन खीचड़ के अनुसार आने वाले 48 घंटों में मानसूनी हवाएं प्रदेश में दस्तक देंगी. 9 जुलाई को मॉनसूनी हवाएं (Monsoon winds) हरियाणा में दाखिल हो जाएंगी. जिससे कुछ स्थानों पर हल्की बारिश होने की संभावना है. मगर मॉनसून 10 जुलाई को आएगा और यह हरियाणा के उत्तरी भाग को कवर करेगा.

प्रदेश में वीरवार यानि 8 जलाई तक मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील, गर्म परंतु नमी वाला वातावरण बने रहने की संभावना है. इस दौरान उत्तरी व दक्षिण पश्चिमी क्षेत्रों में कहीं-कहीं बीच-बीच में आंशिक बादल, धूल भरी हवाएं चलने व कुछ एक स्थानों पर छिटपुट बूंदाबांदी होने की संभावना है. परंतु 9 जुलाई से मानसून के आगे बढ़ने की अनुकूल परिस्थितियां बनने की संभावना से राज्य में ज्यादातर क्षेत्रों में 9 जुलाई रात्रि से 12 जुलाई के बीच हवायों व गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना है.

मौसम आधारित कृषि सलाह:-
1. खरीफ फसलों, सब्जियों व फलदार पौधों में यदि आवश्यक हो तभी सिंचाई करें.
2. अगले तीन दिनों में यदि पानी उपलब्ध हो तो धान की पौध की रोपाई सुबह व शाम काे ही करें और बारिश आने पर पौध की रोपाई जारी रखें.
3. नरमा कपास व अन्य फसलों में स्प्रे करते समय बदलते मौसम का ध्यान अवश्य रखें.
4. ग्वार बाजरा आदि फसलों की बिजाई के लिए उत्तम किस्मों के प्रमाणित बीजों का प्रबंध करें और खेतों को तैयार करे ताकि अच्छी बारिश होने पर बिजाई की जा सकें.
5. मानसून की बारिश की संभावना को देखते हुए हरियाणा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त नर्सरी या विश्वविद्यालय के उद्यान विभाग की नर्सरी से उत्तम किस्मों के फलदार पौधों को लेकर अपने खेतों में पौधे अवश्य लगाएं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज