मेवात: निर्विरोध पहली जिला पार्षद बनीं रहीशा खान
Chandigarh-City News in Hindi

मेवात: निर्विरोध पहली जिला पार्षद बनीं रहीशा खान

  • Last Updated: January 2, 2016, 10:48 PM IST
  • Share this:
हरियाणा के मेवात जिले की एक महिला ने प्रदेश भर में इतिहास रचा है. सूबे में बिना चुनाव के निर्विरोध जिला पार्षद बनने का सौभाग्य प्राप्त किया है.

पूर्वमंत्री मरहूम चौधरी अजमत खां की विरासत को आगे बढ़ाते हुए विधायक रहीशा खान ने पुन्हाना में अपना वर्चस्व बरकरार रखते हुए अपनी पुत्रवधु सिरीन को वार्ड 20 से निर्विरोध जिला पार्षद बनाकर नया इतिहास रच दिया है.

इससे न केवल विधायक का कद बढ़ा है बल्कि विधायक ने साबित कर दिया है कि विधानसभा चुनावों के बाद हल्का की आवाम पर उनकी पकड़ कमजोर नहीं मजबूत हुई है.



सिरीन को निर्विरोध जिला पार्षद बनने की खबर जैसे ही मेवात के लोगों को पता चली तो उनके निवास पर बधाई देने वालों का तांता लग गया. वहीं दूसरी ओर विधायक रहीशा खान ने इसका श्रेय हल्के की जनता व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दिया है.
उनका कहना है कि हल्के की जनता के समर्थन के साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री का भी उन्हें पूरा सहयोग मिल रहा है, जिससे जिला प्रमुख की कुर्सी तक भी मामला पहुंच सकता है.

उनका कहना है कि हल्के की जनता ने जिस उम्मीद व विश्वास के साथ उनकी पुत्रवधु को जिला पार्षद के लिए निर्विरोध चुना है उसके लिए वो जनता के आभारी हैं.

बता दें कि मरहूम चौधरी अजमत खान की तीसरी पीढ़ी सिरीन ने जिला पार्षद के रूप में निर्विरोध जीतकर राजनीति में कदम रख दिया है. जिससे विधायक रहीशा खान के वर्चस्व के कामय रहने के साथ ही उनका कद काफी बढ़ गया है.

सिरीन इससे पहले कॉपरेटीव बैंक की निदेशक भी चुनी गई हैं. विधायक की पुत्रवधु के निर्विरोध जिला पार्षद चुने जाने से विधायक सहित समर्थकों ने लड्डू बांटकर खुशी का इजहार किया है। इस अवसर पर लोगों में भारी खुशी देखने को मिल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज