रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी का लाइसेंस रद्द कर सकती है हरियाणा सरकार: सूत्र
Chandigarh-City News in Hindi

रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी का लाइसेंस रद्द कर सकती है हरियाणा सरकार: सूत्र
रॉबर्ट वाड्रा को लग सकता है बड़ा झटका

हरियाणा सरकार (Haryana Government) रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्‍काईलाइट हॉस्पिटेलिटी को दिए गए रियल एस्टेट डेवलपमेंट लाइसेंस यानि कॉलोनाइजेशन लाइसेंस कैंसिल करने की तैयारी कर रही है.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभागरॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) की कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी प्राइवेट लिमिटेड (Sky Light Hospitality Private Limited) को वर्ष 2008 में दिया गया रियल एस्टेट डेवलपमेंट लाइसेंस यानि कॉलोनाइजेशन लाइसेंस कैंसिल करने की तैयारी कर रहा है. रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी प्राइवेट लिमिटेड को गुरुग्राम में 3.53 एकड़ जमीन 7.50 करोड़ की कीमत पर कॉलोनी डेवलप करने के लिए दी गई थी.

हरियाणा सरकार ने इस जमीन में से 2.70 एकड़ जमीन को कमर्शियल कॉलोनी के तौर पर डेवलप करने की परमिशन देते हुए लाइसेंस रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी को दिया था. लेकिन, कॉलोनी डेवलप करने की बजाय साल 2012 में रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी ने 58 करोड़ में इस जमीन को डीएलएफ यूनिवर्सल लिमिटेड को बेच दिया था. हरियाणा सरकार से कम दाम पर मिली इस जमीन को डीएलएफ यूनिवर्सल लिमिटेड को बेचकर रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी प्राइवेट लिमिटेड ने करोड़ों का मुनाफा कमाया था.

लाइसेंस रद्द करने की औपारिकताएं पूरी



राज्‍य सरकार के टाउन एंड कंट्री प्लानिंग डिपार्टमेंट ने रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी को कॉलोनी डेवलपमेंट करने के लिए दिए गए लाइसेंस को कैंसिल करने की तमाम जरूरी औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं. रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काईलाइट ने 18 सितंबर 2012 को सेल डीड के जरिए इस जमीन को तो डीएलएफ यूनिवर्सल लिमिटेड को बेच दिया था, लेकिन हरियाणा सरकार के टाउन एंड कंट्री प्लानिंग ने लाइसेंस को ट्रांसफर करने की फाइनल परमिशन नहीं दी थी.
अब तक नहीं किया गया लाइसेंस ट्रांसफर

साल 2012 से लेकर अब तक डीएलएफ यूनिवर्सल लिमिटेड रिन्यूअल फीस तो रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी प्राइवेट लिमिटेड को दिए गए लाइसेंस के लिए भरती आ रही है, लेकिन आधिकारिक तौर पर लाइसेंस को अब तक ट्रांसफर नहीं किया गया है.

कॉलोनी डेवलप करने के बजाय बेच दी जमीन

गुरुग्राम के शिकोहपुर गांव के सेक्टर-83 में 3.53 एकड़ जमीन को कॉलोनी डेवलप करने के लिए साल 2008 में स्काईलाइट को दिया गया था. इस जमीन में से 2.7 एकड़ जमीन के कमर्शियल इस्तेमाल की परमिशन थी, लेकिन कॉलोनी डेवलप करने के बजाय बाद में स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी ने इस जमीन को डीएलएफ यूनिवर्सल लिमिटेड को मोटे मुनाफे पर 58 करोड़ में बेच दिया था.

ये भी पढ़ें- झज्जर में पुलिस मुठभेड़: तीन बदमाश गिरफ्तार, पांच पिस्तौल और 28 कारतूस बरामद

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश की दो महिलाओं समेत पांच मजदूरों की हत्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज