गुरुग्राम: महिला सरपंच के पति मनोज डागर की मौत, थाने के सामने बदमाशों ने मारी थी गोली
Chandigarh-City News in Hindi

गुरुग्राम: महिला सरपंच के पति मनोज डागर की मौत, थाने के सामने बदमाशों ने मारी थी गोली
सरपंच के पति मनोज डागर की मौत

एक महीने से चल रही मौत से जंग हार गए सरपंच के पति मनोज डागर (Manoj Dagar), अस्पताल (Hospital) में तोड़ा दम.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 10:23 AM IST
  • Share this:
संजय राघव

गुरुग्राम. 15 जुलाई को सोहना थाने के सामने बदमाशों की गोली से घायल हुए अलीपुर की महिला सरपंच के पति मनोज डागर (Manoj Dagar) ने गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में 28 दिनों बाद दम तोड़ दिया. मनोज डागर को 15 जुलाई को सोहना थाने के सामने बदमाशों ने गोली मार दी थी. तभी से मनोज डागर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में उपचाराधीन थे. लेकिन डॉक्टर की टीम टीम उसे रिकवर नहीं कर पाई और मनोज  डागर की मौत (Death) हो गई.

हालांकि इस मामले में सोहना क्राइम ब्रांच में मशहूर गैंगस्टर अशोक राठी के भाई  महेश उर्फ निशु को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. वहीं अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है. मामला जमीनी लेनदेन का बताया जा रहा है.



बेटी की दवाई लेने आया था सोहना
बता दें कि अलीपुर की महिला सरपंच के पति मनोज डागर 15 जुलाई को अपनी बेटी को दवाई दिलवाने के लिए सोहना आया था.  कृष्णा अस्पताल में अपनी बेटी को दवाई दिलवाने के बाद अस्पताल से बाहर आया  उस समय  अज्ञात बदमाशों ने उस पर गोली चला दी.  इस हमले में मनोज डागर गंभीर रूप से घायल कर हो गया. घायल अवस्था में मनोज डागर को एक निजी अस्पताल में भर्ती करा  दिया.  बीती रात मनोज डागर ने दम तोड़ दिया.

क्राइम ब्रांच ने 1 आरोपियों को इस मामले में किया गिरफ्तार 

अपराध शाखा ने चार्ज 4 अगस्त अगस्त को इस मामले में सोहना के इंडरी  मोड़ से अलीपुर निवासी महेश उर्फ नीसु को गिरफ्तार किया  और पूछताछ में पता चला कि मनोज डागर पर गोली  निसु   ने अपने गुर्गों से चलवाई थी। जिनकी अपराध शाखा तलाश कर रही है. पुलिस ने इस मामले में  पहले धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया था व एक को गिरफ्तार भी किया है. लेकिन अब मनोज डागर की मौत के बाद धारा 302 को भी इसमें शामिल कर दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज