लाइव टीवी

प्रदूषण बढ़ने के पीछे दिल्ली खुद जिम्मेदार, हरियाणा में पराली जलाना नहीं: सीनियर साइंटिस्ट

मोहित मल्होत्रा | News18 Haryana
Updated: October 31, 2019, 5:41 PM IST
प्रदूषण बढ़ने के पीछे दिल्ली खुद जिम्मेदार, हरियाणा में पराली जलाना नहीं: सीनियर साइंटिस्ट
दिल्ली में प्रदूषण बढ़ने के पीछे वो खुद जिम्मेदार

राजेश गड़िया ने कहा कि पंजाब पर जो आरोप लग रहे हैं कि पंजाब की पराली जलाने से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है. उसका जवाब तो पंजाब ही दे सकता है, लेकिन मैं नहीं मानता कि पंजाब या दिल्ली में पराली जलाने से जो धुंआ फैलता है वो दिल्ली पर जाकर असर डालता है.

  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (Haryana State Pollution Control Board) के सीनियर साइंटिस्ट राजेश गड़िया ने अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के और दिल्ली सरकार (Delhi Government) के हरियाणा में पराली जलाए जाने से होने वाले प्रदूषण (Pollution) से दिल्ली के गैस चैंबर (Gas Chamber) बनने के आरोपों को खारिज करते हुए उल्टा आरोप लगा दिया है. उन्होंने कहा कि फरीदाबाद जोकि दिल्ली से सटा हुआ है वहां पर प्रदूषण बढ़ने का कारण दिल्ली का बढ़ा हुआ प्रदूषण है.

उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में प्रदूषण का लेवल, इंडस्ट्रियल एरिया काफी होने की वजह से वैसे ही काफी हाई रहता है, लेकिन पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में बढ़े प्रदूषण की वजह से फरीदाबाद और बल्लभगढ़ जैसे इलाकों का AQI बढ़ गया है और दिल्ली के गैस चैंबर बनने और प्रदूषण के बढ़ने के पीछे खुद दिल्ली और दिल्ली के अपने कारण जिम्मेदार हैं नाकि हरियाणा में पराली जलाना.

पंजाब पर लगे आरोपों पर कही ये बात
राजेश गड़िया ने कहा कि पंजाब पर जो आरोप लग रहे हैं कि पंजाब की पराली जलाने से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है. उसका जवाब तो पंजाब ही दे सकता है, लेकिन मैं नहीं मानता कि पंजाब या दिल्ली में पराली जलाने से जो धुंआ फैलता है वो दिल्ली पर जाकर असर डालता है.

ये भी पढ़ें- पहलू खां मॉब लिंचिंग केस: हाईकोर्ट ने पहलू के परिवार के खिलाफ दर्ज FIR खारिज की

सिद्धू को इमरान ने फिर दिया न्यौता, विज बोले-पाक के ही रिप्रजेंटेटिव हैं वो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 5:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...