होम /न्यूज /हरियाणा /Sonali Phogat Murder: सोनाली फोगाट के परिजन और ससुराली दो-फाड़, अलग-अलग सुर में नजर आए, कुलदीप बिश्नोई ने भी दी सफाई  

Sonali Phogat Murder: सोनाली फोगाट के परिजन और ससुराली दो-फाड़, अलग-अलग सुर में नजर आए, कुलदीप बिश्नोई ने भी दी सफाई  

सवालों के बाद कुलदीप बिश्नोई सोनाली फोगाट के ससुराल पक्ष में पहुंचे.

सवालों के बाद कुलदीप बिश्नोई सोनाली फोगाट के ससुराल पक्ष में पहुंचे.

Sonali Phoghat Murder Case: 24 सितम्बर को जाट धर्मशाला में सर्व जातीय महापंचायत के नाम पर एक बैठक बुलाई गयी थी, जिसमें ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हिसार. भाजपा नेता और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट के मौत मामले में दो दिन पहले हुई सर्वजातीय खाप महापंचायत के दौरान आदमपुर के पूर्व विधायक कुलदीप बिश्नोई पर उठे सवालों के बाद कुलदीप बिश्नोई सोनाली फोगाट के ससुराल पक्ष में पहुंचे.

संत नगर स्थित सोनाली के जेठ व देवर के घर पर पहुंचे कुलदीप ने सोनाली फोगाट के ससुराल पक्ष से मुलाकात की. इस दौरान सोनाली फोगाट के ससुराल पक्ष वालों ने कहा कि दो दिन पहले हुई पंचायत से फोगाट परिवार का कोई लेनादेना नहीं है और ना ही उसमें हुए फैसलों पर उनकी सहमति है.

ससुराल पक्ष के लोगों ने ये भी कहा कि फोगाट परिवार से कोई भी व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ेगा और अगर ढाका या पूनिया परिवार में से किसी को लडऩा है तो अपने बूते पर लड़े. वह तो सोनाली की बेटी की अच्छे से परवरिश करेंगे, ना कि उसका पैसा खराब करेंगे.

कुलदीप बिश्नोई इस दौरान 10 मिनट तक फोगाट परिवार के सदस्यों के बीच रहे और उन्होंने साफ कहा कि उनके ऊपर लगाये जा रहे आरोप राजनीति से प्रेरित हैं और आदमपुर उपचुनाव के बाद आरोप लगाने वाले नजर भी नहीं आएंगे. हालांकि, इस मौके पर उन्होंने पत्रकारों से बातचीत नहीं की और इस मामले पर मीडिया के समक्ष अपना पक्ष नहीं रखा.

क्या है पूरा मामला’

24 सितम्बर को जाट धर्मशाला में सर्व जातीय महापंचायत के नाम पर एक बैठक बुलाई गयी थी, जिसमें सोनाली फोगाट के मायका परिवार के सदस्यों ने कुलदीप बिश्नोई पर सोनाली फोगाट मर्डर मामले में शक जाहिर किया था और अपना स्टैंड क्लियर करने की मांग की थी. इसी बैठक में सोनाली की राजनीतिक विरासत उसकी बहन रुकेश को सौंपने पर फैसला हुआ था. खास बात ये थी कि इस पंचायत में सोनाली के ससुराल पक्ष फोगाट परिवार से कोई शामिल नहीं हुआ था. अब कुलदीप के फोगाट परिवार में मिलने पहुंचने के बाद और फोगाट परिवार द्वारा उनका साथ देने की बात से फोगाट व ढाका परिवार के बीच इस मामले पर दो राय बनती साफ दिख रही हैं.

Tags: Sonali Phogat

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें