लाइव टीवी

प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट का सख्त रुख, हरियाणा सरकार को लगाई फटकार

News18 Haryana
Updated: November 25, 2019, 3:47 PM IST
प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट का सख्त रुख, हरियाणा सरकार को लगाई फटकार
हरियाणा सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

हरियाणा (Haryana) के मुख्य सचिव (Chief Secretary) ने कहा कि पिछले वर्ष के मुकाबले पराली जलाने (Stubble Burning) की घटना कम हुई है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कहा कि हम यहां पर कम्पेरिजन करने के लिए नहीं बैठे हैं.

  • Share this:
दिल्ली. प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सख्त रुख इख्तियार करते हुए हरियाणा सरकार (Haryana Governement) को फटकार लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हरियाणा ने पहले प्रदूषण (Pollution) को लेकर अच्छा काम किया था लेकिन उसके बाद फिर वही हालात बन गए हैं. सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा के मुख्य सचिव को फटकार लगाते हुए कहा कि हमारे आदेश के बाद हरियाणा में पराली जलाने की घटना बढ़ी है. पंजाब से ज़्यादा पराली जलाने की घटना हरियाणा में हुई है.

हरियाणा के मुख्य सचिव ने कहा कि पिछले वर्ष के मुकाबले पराली जलाने की घटना कम हुई है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम यहां पर कम्पेरिजन करने के लिए नहीं बैठे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा के मुख्य सचिव से कहा कि क्या आपने हमारे आदेश की अवमानना की है. सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा के मुख्य सचिव से पूछा कि क्या आप मानते हैं कि आप सुप्रीम कोर्ट के आदेश को पूरा करने में असमर्थ है.

राज्य आपस में बैठ नहीं कर रहे बात

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा कि हम इसको बर्दाश्त नहीं कर सकते है. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि क्या यह वार लेवल पर काम कर रहे है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राज्य आपस में बैठ कर बात नहीं कर रहे हैं, एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं.

दिल्ली के पानी को लेकर भी हो रही राजनीति

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली के पानी को लेकर भी राजनीति हो रही है और राजनीतिक खेल चल रहा है. सिर्फ दिल्ली की जनता से खिलवाड़ हो रहा है और एक दूसरे पर आरोप लगाया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली सरकार पंजाब सरकार पर आरोप लगा रही है. पंजाब सरकार हरियाणा सरकार पर और हरियाणा सरकार दिल्ली सरकार पर आरोप लगा रही है.

यह भी पढ़ें- पानीपत में सड़क हादसे में 2 बुजुर्गों की मौत, 10 घायल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 3:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...