स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: स्टेट रैंकिंग में दूसरे स्थान पर हरियाणा, टॉप-10 में प्रदेश का एक भी शहर नहीं
Chandigarh-City News in Hindi

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: स्टेट रैंकिंग में दूसरे स्थान पर हरियाणा, टॉप-10 में प्रदेश का एक भी शहर नहीं
टॉप 10 में कोई शहर नहीं बना पाया जगह

10 लाख की आबादी वाले शहरों में करनाल (Karnal) 17वें स्थान पर रहा. रोहतक शहर 35वें स्थान पर रहा, पंचकूला (Panchkula) का 56वां नंबर रहा.

  • Share this:
मनोज कुमार

चंडीगढ़. केन्द्र सरकार द्वारा घोषित किए गए स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 (swachh-survekshan-2020) के परिणामों में 100 से कम शहरी स्थानीय निकाय वाले राज्यों की श्रेणी में हरियाणा (Haryana) ने सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले राज्यों में दूसरा स्थान प्राप्त किया है. स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में हरियाणा 9वें स्थान पर था. इसके अतिरिक्त, कचरामुक्त शहरों की श्रेणी में करनाल को तीन स्टार तथा रोहतक को एक स्टार प्राप्त हुआ है.

मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने इस उपलब्धि के लिए प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि स्वच्छ भारत मिशन का मुख्य उद्देश्य सभी क्षेत्रों में ओडीएफ स्थिति को बनाए रखना और स्वच्छता के स्तर में सुधार करना है ताकि सभी स्वस्थ रह सकें. उन्होंने कहा कि हरियाणा के सभी शहरी स्थानीय निकायों को एकीकृत ठोस अपशिष्ट प्रबंधन (डोर टू डोर कलेक्शन, परिवहन, प्रसंस्करण और निपटान) के लिए विभिन्न कलस्टरों में विभाजित किया गया है ताकि इस अभियान को सफलतापूर्वक क्रियान्वित किया जा सके.



अनिल विज ने दी बधाई
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री  अनिल विज ने भी केन्द्र सरकार द्वारा घोषित किए गए स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के परिणामों से खुश होकर सभी प्रदेशवासियों को बधाई दी तथा राज्य में कार्यरत सभी सफाई कर्मचारियों का भी विशेष तौर पर धन्यवाद किया.

करनाल 17वें स्थान पर

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत एक लाख से अधिक आबादी और एक लाख से कम आबादी की शहरी स्थानीय निकायों की दो श्रेणियों में स्वच्छता के आधार पर पुरस्कार प्रदान किए गए. स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत हरियाणा में एक लाख से अधिक आबादी वाले शहरों की श्रेणी में करनाल को 17वां, रोहतक को 35वां, पंचकूला को 56वां, गुरुग्राम को 62वां, सोनीपत को 103वां, हिसार को 105वां, रेवाड़ी को 118वां और अम्बाला को 120वां स्थान प्राप्त हुआ है जबकि गत वर्ष की रेंकिंग में ये शहर क्रमश: 24, 69, 71, 83, 161, 173, 264 और 146वें स्थान पर थे.

एक लाख से कम आबादी वाले शहरें में ये रहा परिणाम

इसी प्रकार, स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत एक लाख से कम आबादी वाले शहरों की श्रेणी में चरखी दादरी ने 11वां, गोहाना ने 19वां, खरखौदा ने 22वां, नरवाना ने 23वां, टोहाना ने 26वां, फतेहाबाद ने 27वां, लाडवा ने 30वां, घरौंडा ने 31वां, शाहबाद ने 38वां, हांसी ने 42वां, चीका ने 46वां, मंडी-डबवाली ने 65वां, नारनौल ने 83वां और होडल ने 98वां स्थान प्राप्त किया है.

पिछले साल ऐसा था परिणाम

स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में चरखी दादरी ने 850वां, गोहाना ने 216वां, खरखौदा ने 121वां, नरवाना ने 674वां, टोहाना ने 329वां, फतेहाबाद ने 177वां, लाडवा ने 528वां, घरौंडा ने 81वां, शाहबाद ने 112वां, हांसी ने 504वां, चीका ने 337वां, मंडी डबवाली ने 737वां, नारनौल ने 583वां और होडल ने 626वां स्थान प्राप्त किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज