हरियाणा में टेलीमेडिसिन सेवा शुरू, 1075 पर फोन कर जानें कौन से लक्षण में कौन सी दवा लें

अनिल विज ने दी जानकारी

अनिल विज ने दी जानकारी

हरियाणा में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते खतरे के बीच सरकार ने शुरू की हेल्पलाइन. अनिल विज ने कहा कि हरियाणा के सारे अस्पतालों को हम ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बनाने जा रहे हैं.

  • Share this:

चंडीगढ़. हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने कोरोना में आयुर्वेदिक दवाओं का बहुत बड़ा रोल है. लोगों को मालूम नहीं है कि कब कौन सी दवा लेनी है. इसलिए मैंने आज से टेलीमेडिसिन सेवा शुरू की है. 1075 पर जब कोई फोन करेगा तो विशेषज्ञ डॉक्टरों (Specialist Doctors) की टीम बताएगी की कौन से लक्षण में कौन सी दवा लेनी है.

विज ने कहा कि हरियाणा में अगर कोई भी मुनाफाखोरी करने की कोशिश करेगा और दवा के ज्यादा पैसे लेगा तो इसके लिए हमने एक हेल्पलाइन बनाई है. इसकी निगरानी खुद DGP कर रहे हैं. इसका नंबर 18001801314 है. इस पर कोई भी फोन कर सकता है. शिकायत करने वाले की पहचान गुप्त रखी जाएगी. हमने 40-45 लोगों को गिरफ्तार किया है

उन्होंने कहा कि हमने निजी अस्पतालों को हिदायत दे दी है कि हर निजी अस्पताल को अपनी आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाना पड़ेगा. अगर वे नहीं लगाएंगे तो हम सख्त कार्रवाई करेंगे. हरियाणा के सारे अस्पतालों को हम ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बनाने जा रहे हैं. 6 प्लांट शुरू हो गए हैं. 60 प्लांट केंद्र सरकार ने हमें और मंजूर किए हैं. सभी अस्पतालों में इसे लगाने का काम शुरू हो गया है.

कोरोना का कहर जारी
इस बीच हरियाणा में कोरोना का कहर जारी है. पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के 15416 मरीज़ और बढ़ गए हैं. इस दौरान मौत के आंकड़े भी डराने वाले हैं. सूबे में 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण (Corona virus) की वजह 181 लोगों की मौत हुई है. एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1,13,425 हो गई है, वहीं एक ही दिन में 10,640 लोग कोरोना से ठीक हुए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज