Home /News /haryana /

आंदोलन करने वाले और कानून हाथ में लेने वाले किसान नहीं : सीएम मनोहर लाल खट्टर

आंदोलन करने वाले और कानून हाथ में लेने वाले किसान नहीं : सीएम मनोहर लाल खट्टर

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कांग्रेस और कम्युनिस्ट नेताओं पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया.

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कांग्रेस और कम्युनिस्ट नेताओं पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि हरियाणा के किसान खुशी-खुशी अपने खेतों में काम कर रहे हैं. यह पंजाब के किसान हैं, जो टिकरी और सिंघु बॉर्डर पर बैठे हैं. कानून हाथ में लेने वाले किसान नहीं हैं.

चंडीगढ़. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज पर कहा है कि आंदोलन करने वाले और कानून हाथ में लेने वाले किसान नहीं, बल्कि राजनीति से प्रेरित लोग हैं. हरियाणा के किसान खुशी-खुशी अपने खेतों में काम कर रहे हैं. यह पंजाब के किसान हैं, जो टिकरी और सिंघु बॉर्डर पर बैठे हैं. किसानों को गुमराह करने, करनाल में अराजकता पैदा करने और उकसाने के लिए कांग्रेस और कम्युनिस्ट नेताओं को जिम्मेवार बताते हुए सीएम ने उनपर तीखा हमला किया.

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि ऐसे आंदोलनों के माध्यम से अगर इन नेताओं को लगता है कि वे अपने निहित स्वार्थों को प्राप्त कर सकते हैं तो वे बहुत गलत हैं. उन्होंने कहा कि इन प्रदर्शनकारियों और जिला प्रशासन के बीच सकारात्मक बातचीत हुई थी, जिसमें उन्होंने लिखित सहमति दी थी कि वे केवल शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन करेंगे और कानून व्यवस्था का उल्लंघन नहीं करेंगे. यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है कि कैसे राजनीति से प्रेरित लोगों ने अपना वादा तोड़ दिया.

उन्होंने कहा कि इन विरोध करने वाले किसानों और उन्हें उकसाने वालों को यह समझना चाहिए कि सरकार अभी भी किसानों की बात सुनने के लिए तैयार है. सरकार उनके खिलाफ नहीं है, यदि ऐसा होता तो उन्हें सरकार द्वारा प्रदर्शन स्थलों पर जो बुनियादी सुविधाएं प्रदान की गई हैं, वे उन्हें नहीं दी जातीं. करनाल में हिंसा भड़काने के लिए ऐसे नेताओं को कड़ी चेतावनी देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र में हर किसी को अभिव्यक्ति का अधिकार है. हालांकि, अगर कोई कानून व्यवस्था को अपने हाथ में लेता है, तो निश्चित रूप से पुलिस को कानून व्यवस्था को संभालना होगा. करनाल घटना के दौरान वायरल हुए एक अधिकारी के ऑडियो और वीडियो के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि इसकी जांच पुलिस महानिदेशक द्वारा की जा रही है.

हालांकि मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि वायरल ऑडियो और वीडियो एक अलग जगह का है और जो घटना हुई वह अलग स्थान पर हुई थी. इसलिए दोनों घटनाओं को आपस में नहीं जोड़ा जाना चाहिए. मुख्यमंत्री ने किसानों से सकारात्मक बातचीत के माध्यम से अपनी मांगों को रखने का आग्रह करते हुए कहा कि किसानों को देश की परंपराओं में अपना विश्वास बनाए रखना चाहिए. केवल सकारात्मक बातचीत से ही किसी मुद्दे को हल किया जा सकता है. किसी भी बात पर अड़े रहने से कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकल सकता है. मुख्यमंत्री ने कहा कि तीन कृषि कानून को आए दो साल हो गए हैं, लेकिन मंडी प्रणाली बंद नहीं हुई और फसलों की खरीद एमएसपी पर जारी है, जो विपक्ष द्वारा फैलाए गए भ्रम और दावों के बिल्कुल विपरीत है. उन्होंने कहा कि हरियाणा ऐसा राज्य है जो 11 फसलों की एमएसपी पर खरीद कर रहा है.

Tags: CM Manohar Lal Khattar, Haryana news, Karnal lathicharge

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर