चंडीगढ़ के गर्ल्स पीजी में लगी भीषण आग में तीन छात्राओं की मौत, दो घायल
Chandigarh-City News in Hindi

चंडीगढ़ के गर्ल्स पीजी में लगी भीषण आग में तीन छात्राओं की मौत, दो घायल
चंडीगढ़- अवैध रूप से चलाए जा रहे गर्ल्स पीजी में एक लड़की के लैपटॉप की बैटरी में धमाका होने से लगी आग.

चंडीगढ़ (Chandigarh) के सेक्टर-32डी में एक मकान में अवैध (Illegal) रूप से चलाए जा रहे गर्ल्स पीजी (Girls PG) के फर्स्ट फ्लोर पर आग (Fire) लग जाने से तीन लड़कियों (Three girls died) की मौत हो गई. आग की इस घटना में एक लड़की जिंदा जल गई, जबकि अन्य दो लड़कियों की दम घुटने (Suffocation) से मौत हो गई. आग लगने के दौरान अन्य 2 लड़कियों ने छत से कूदकर अपनी जान बचाई.

  • Share this:
चंडीगढ़. शहर के सेक्टर-32डी में एक मकान में अवैध रूप से चलाए जा रहे गर्ल्स पीजी (Girls PG) के फर्स्ट फ्लोर पर आग (Fire) लग जाने से तीन लड़कियों (Three girls died) की मौत हो गई. आग की इस घटना में एक लड़की जिंदा जल गई, जबकि अन्य दो लड़कियों की दम घुटने (Suffocation) से मौत हो गई. आग लगने के दौरान अन्य 2 लड़कियों ने छत से कूदकर अपनी जान बचाई. इन दोनों लड़कियों को कंधे और पांव में काफी चोटें आई हैं. मरने वाली लड़कियों में से दो पंजाब और एक हरियाणा की रहने वाली थी. बताया जा रहा है कि हादसे के समय एक लड़की लैपटॉप को चार्जिंग पर लगाकर उस पर काम कर रही थी. उसी समय लैपटॉप की बैटरी में धमाका (Blast in laptop battery) हो गया, जिससे आग लग गई. लकड़ी और फाइबर की वजह से आग तेजी से भड़की. बताया जा रहा है कि कमरे में फायर सेफ्टी के कोई उपकरण भी नहीं थे.

पुलिस ने क्षेत्र को अपने घेरे में लिया

हादसे में जिन लड़कियों की मौत हुई उनकी पहचान रिया, पाक्षी और मुस्कान के तौर पर हुई है. रिया कपूरथला (पंजाब) और पाक्षी कोटकपूरा (पंजाब) की रहने वाली थी, जबकि मुस्कान हिसार (हरियाणा) की निवासी थी. घायलों की पहचान जैसमिन और फैमिना के तौर पर हुई है. घायल जैसमीन पंजाब के मोगा, जबकि फैमिना हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली है. उनके परिजनों को सूचित कर दिया गया है. जैसमीन व फैमिना एक-दूसरे को नहीं जानती थीं. उनके मुताबिक पीजी में आजकल 15-20 छात्राएं रह रही हैं, लेकिन घटना के दौरान अधिकतर छात्राएं वहां मौजूद नहीं थीं. घटना से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया और पुलिस ने क्षेत्र को अपने घेरे में ले लिया.



लैपटॉप की बैटरी फटने से हुआ हादसा



हादसे के समय मुस्कान लैपटॉप पर काम कर रही थी तभी लैपटॉप की बैटरी फट गई और आग लग गई. मुस्कान को संभलने का मौका तक नहीं मिला. रिया और पाक्षी भी वहीं सो रही थीं. आग लगते ही दोनों जान बचाने के लिए बाथरूम में छिप गईं, जहां धुएं के कारण दम घुटने से उनकी मौत हो गई.
लोगों ने पीजी से धुआं उठता हुआ देखा तो तुरंत पुलिस को सूचित किया गया. इसके बाद फायर ब्रिगेड, एनडीआरएफ और पुलिस की टीमें मौके पर पहुंची और आग बुझाने का काम शुरू किया.

आग लगते ही दो लड़कियां बाथरूम में छिप गईं, जहां धुएं के कारण दम घुटने से उनकी मौत हो गई.


पीजी में लगभग 25 लड़कियों के रहने की व्यवस्था

पीजी में लगभग 25 लड़कियों के रहने की व्यवस्था है, लेकिन अभी इस समय आठ-नौ लड़कियां ही रह रही थीं. घटना के समय चार लड़कियां बाहर गई थीं. बताया जा रहा है कि यह पीजी रजिस्टर्ड नहीं है. हादसे में मरने वाली पाक्षी कोटकपूरा शहर के सट्टा बाजार निवासी नवदीप ग्रोवर की बेटी थी. बताया जा रहा है कि वह डीएवी कॉलेज में 12वीं कक्षा की टॉपर रह चुकी है. वह चंडीगढ़ में एसडी कॉलेज की छात्रा थी. उसकी मौत की खबर के बाद शहर में शोक की लहर है.

ये भी पढ़ें - अज्ञात युवकों ने कैफे में की तोड़फोड़ व मारपीट,CCTV फुटेज से पहचाने गए हमलावर

ये भी पढ़ें - 8 बाइक, 1 स्कूटी और लाखों की चोरी मामले में मास्टरमाइंड सहित 4 चोर गिरफ्तार

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading