अपना शहर चुनें

States

CM खट्टर ने कहा- पंजाब के मुख्यमंत्री नहीं उठाते फोन, अमरिंदर ने दिया जवाब- दस बार कॉल करो तो भी नहीं करूंगा बात

किसानों के प्रदर्शन पर आमने सामने हरियाणा-पंजाब (फाइल फोटो)
किसानों के प्रदर्शन पर आमने सामने हरियाणा-पंजाब (फाइल फोटो)

खट्टर ने कहा कि इस बारे में मैंने पंजाब के मुख्यमंत्री से बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मेरी फोन कॉल रिसीव नहीं की. बाद में जब मैंने उन्हें प्रमाण दिखाया तो उनकी बोलती बंद हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2020, 8:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कृषि कानून के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के किसानों के दिल्ली चलो अभियान को लेकर दो मुख्यमंत्रियों के बीच तनातनी हो गई है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं. न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए बयान में सीएम खट्टर ने पंजाब सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कोरोना वायरस की वजह से अगर कोई खतरनाक स्थिति पैदा होती है तो इसके लिए पंजाब सरकार जिम्मेदार होगी. खट्टर ने कहा कि इस बारे में मैंने पंजाब के मुख्यमंत्री से बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मेरी फोन कॉल रिसीव नहीं की. बाद में जब मैंने उन्हें प्रमाण दिखाया तो उनकी बोलती बंद हो गई.

10 बार भी फोन करें खट्टर तो बात नहीं करूंगा : अमरिंदर
जबकि पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने एएनआई से कहा है कि खट्टर झूठ कह रहे है कि उन्होंने मुझे पहले फोन किया है और मैंने उस पर रेस्पॉन्ड नहीं किया. लेकिन अभी तो उन्होंने (खट्टर ने) हमारे किसानों के साथ जो किया, उसके बाद तो वह मुझे दस बार भी कॉल करें तो मैं उनसे बात नहीं करने वाला.







खट्टर ने कहा - पंजाब सरकार ने प्रोटेस्ट की इजाजत कैसे दी?
हरियाणा के सीएम खट्टर ने अपने एक अन्य बयान में कहा है कि जिस तरह की भाषा वह (अमरिंदर सिंह) इस्तेमाल कर रहे हैं वह किसी मुख्यमंत्री पर सूट नहीं करती. हमने तो कोरोना संक्रमण फैलने की आशंका के कारण तय किया है कि किसी को इकट्ठा होने की इजाजत नहीं देंगे. मैं तो आश्चर्यचकित हूं कि पंजाब ने ऐसे समय में किसानों को प्रोटेस्ट करने की इजाजत कैसे दे दी. सीएम खट्टर ने कहा कि मैं कभी आंसू गैस और वॉटर कैनन के इस्तेमाल के पक्ष में नहीं हूं जैसा कि फोर्स ने किया.

'किसानों से माफी मांगें खट्टर, तभी होगी बात'
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने पूछा है कि हरियाणा की पुलिस हमारे किसानों को क्यों रोक रही है? क्यों उन्हें उन पर आंसू गैस छोड़ने पड़े? अमरिंदर सिंह ने कहा कि मैंने पीएम और कृषि मंत्री से बात की है, इसलिए मैं खट्टर से बात क्यों नहीं कर सकता हूं? लेकिन वो इसमें विफल रहे है और अब मुझे इसके लिए दोषी ठहरा रहे हैं. मैं सीएम खट्टर से क्यों नहीं बात करूंगा, लेकिन पहले वो उन किसानों से माफी मांगें, जिन पर उन्होंने हमले करवाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज