हरियाणा में मौसम: अगले दो दिन भी पाला जमने के आसार, 2.2 डिग्री तक पहुंचा तापमान

आने वालेे दिनों मेें पड़ सकती है धुंध

आने वालेे दिनों मेें पड़ सकती है धुंध

Haryana Weather: पहाड़ों से आ रही शुष्क हवाओं से हरियाणा में गुरुवार को रात का तापमान सामान्य से 6 डिग्री तक कम हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:07 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा (Haryana) में अगले दो दिन भी पाला जम सकता है. रात का पारा और कम होने की संभावना है. 31 जनवरी की रात पश्चिमी विक्षोभ (Western disturbance) असर दिखाएगा. फरवरी के पहले सप्ताह तक ठंड से राहत मिल सकती है. कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि ठंड से गेहूं, सरसों, चना, जौ की फसलों को बहुत फायदा हो रहा है.

पहाड़ों से आ रही शुष्क हवाओं से हरियाणा में गुरुवार को रात का तापमान सामान्य से 6 डिग्री तक कम हो गया. हिसार में यह 2.2 तो नारनौल में तापमान 2.3 डिग्री पर आ गया. कुछ इलाकों में गहरी धुंध छाई रही. अम्बाला में दृश्यता 25 मीटर और करनाल में 50 मीटर रह गई. मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि अमूमन जनवरी के अंत में ऐसा मौसम कम रहता है.

मौसम विज्ञानियों की मानें तो धुंध इस माह के अंत तक यानि 31 जनवरी तक भी रह सकती है. इसके साथ ही इस बार अधिक दिनों तक ठंड पड़ने की संभावना जताई जा रही है. मार्च माह में भी लोगों को ठंड का अनुभव होगा. वहीं, किसानों के लिए यह पश्चिमी विक्षोभ की बारिश काफी फायदेमंद है. विज्ञानियों के अनुसार फसलों को पानी की जरूरत पूरी होगी.

Youtube Video

रात के तापमान में गिरावट जारी 

हरियाणा में उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण रात के तापमान में गिरावट जारी है. प्रदेश में राजस्थान से सटे इलाकों में पारा एक बार फिर लगातार नीचे जा रहा है. नारनौल में तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया. वहीं सिरसा में तापमान 3.8, भिवानी 4.8 डिग्री और हिसार में 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. हालांकि, दिन में धूप निकलने से हल्‍की राहत मिल रही है.

शीतलहर का प्रकोप



मौसम विभाग ने बताया कि अब शीतलहर के साथ बादलवाई के कारण सर्दी बढ़ रही है. इसका एक कारण यह है कि हाल ही में पश्चिमी विक्षोभ ने प्रदेश को पास किया, जिससे पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी हुई. इसके बाद पहाड़ी क्षेत्रों से चली हवाओं ने मैदानी क्षेत्र क्षेत्र में गलन बढ़ाने का काम किया है. राज्य में फिर से उत्तर पश्चिमी हवाएं चलने से रात्रि तापमान में गिरावट व सुबह के समय धुंध आने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज