हरियाणा में मौसम: रात में आई तेज आंधी, अलसुबह बूंदाबांदी, किसानों की चिंता बढ़ी

हरियाणा में मौसम ने ली करवट.  (प्रतीकात्मक तस्वीर: Pixabay)

हरियाणा में मौसम ने ली करवट. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Pixabay)

Haryana Weather Update: आंधी-तूफान से टिकरी बॉर्डर पर देर रात तक बिजली आपूर्ति प्रभावित रही. मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों में भी बारिश और तेज हवाएं चलने का जारी किया पूर्वानुमान.

  • Share this:
चंडीगढ़. पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से मंगलवार को मौसम (Weather Update) ने अचानक करवट ली. पहाड़ों में बर्फबारी के बाद अब मंगलवार अलसुबह 4 बजे हरियाणा के कई जिलों में हल्की बूंदाबांदी दर्ज की गई. इससे तापमान में आंशिक गिरावट आई है. वहीं शाम को 9 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चली. रात को तेज आंधी भी आई. वहीं कुछ जिलों में मंगलवार शाम को गरज व चमक के साथ हल्की बारिश हुई. मौसम विभाग ने अगले तीन-चार दिन भी मौसम परिवर्तनशील रहने की संभावना जताई है.

दो माह पूर्व पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते 3 से 6 जनवरी के बीच जिले सहित प्रदेश भर में अच्छी बारिश हुई थी. इसके चलते जनवरी में ठंड बरकरार रही, लेकिन उसके बाद पश्चिमी विक्षोभ तो कई आए पर हिमालय के ऊंचाई वाले क्षेत्रों से गुजर जाने के कारण बारिश नहीं हो पाई. इसके चलते फरवरी माह काफी गर्म रहा और अंतिम सप्ताह में तो दिन का तापमान 34.5 तथा रात का 18 डिग्री को क्रॉस कर गया था. मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक पूर्वानुमान के अनुसार अब 11 व 12 मार्च को भी बूंदाबांदी हो सकती है. जबकि 13 व 14 को मौसम में बादल छाने की संभावना है.

किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें

बता दें कि मंगलवार को मौसम ने करवट बदली. दोपहर तक आसमान में हल्के बादल तथा दोपहर बाद पूरे आसमान को गहरी काली घटाओं ने घेर लिया और मौसम सुहावना बना रहा. शाम को हल्की बूंदाबांदी भी हुई. मौसम की नजाकत को देखकर किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें गहराने लगी. सरसों की फसल पूरी तरह से पक गई है तथा कुछ स्थानों पर इसकी कटाई भी शुरू हो चुकी है. बारिश से जहां गेहूं की फसल को फायदा होगा वहीं सरसों में नुकसान की संभावना बन सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज