Home /News /haryana /

हरियाणा में मौसम: अब बढ़ने लगेगी गर्मी, 5 डिग्री पर आया नारनौल का पारा

हरियाणा में मौसम: अब बढ़ने लगेगी गर्मी, 5 डिग्री पर आया नारनौल का पारा

हरियाणा में आने वाले दिनों ऐसा रहेगा मौसम

हरियाणा में आने वाले दिनों ऐसा रहेगा मौसम

Haryana Weather Update: नारनौल में रात का पारा 0.2 डिग्री बढ़कर 5.2 डिग्री तक पहुंच गया है. वहीं, करनाल में 6 और हिसार में 6.6 डिग्री दर्ज किया गया.

    चंडीगढ़. हरियाणा के मौसम (Weather) में लगातार बदलाव हो रहा है. मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, अब दिन-रात का तापमान (Temperature) धीरे-धीरे बढ़ने लगेगा. हालांकि, फरवरी में दो पश्चिमी विक्षोभ असर दिखा सकते हैं. इससे बारिश हुई तो पारा नीचे आएगा, लेकिन अब ज्‍यादा ठंड की संभावना कम है. नारनौल में रात का पारा 0.2 डिग्री बढ़कर 5.2 डिग्री हो गया है. यह करनाल में 6 और हिसार में 6.6 डिग्री दर्ज किया गया. यह सामान्य से 3 डिग्री कम है. कुछ इलाकों में अलसुबह गहरी धुंध भी छाई, लेकिन दोपहर तक मौसम साफ हो गया.

    मौसम विभाग के अनुसार, राज्य में मौसम के आमतौर पर 9 फरवरी तक परिवर्तनशील मगर खुश्क रहने की संभावना है. दिन के तापमान में बढ़ोतरी होगी. इसके साथ ही उत्तर पश्चिमी हवा चलने की संभावना से रात्रि तापमान में हल्की गिरावट आने की भी संभावना है, जबकि सुबह धुंध छाने के आसार हैं. बता दें कि पिछले दिनों हरियाणा में काफी सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ ने दस्तक दी थी, जिससे ओलावृष्टि और बारिश दोनों ने ठंड बढ़ाने का काम किया. पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण पहाड़ों बर्फबारी हो रही है.

    कई स्थानों पर हुई थी बारिश
    पहाड़ी क्षेत्रों से उत्तर पश्चिमी हवाएं जब मैदानी क्षेत्रों की तरफ चलती हैं तो वह तापमान गिराने का काम करती हैं. इसमें मुख्य रूप से रात्रि तापमान में गिरावट देखने को मिलती है. बता दें कि हाल ही में आए सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के कारण प्रदेश में कई स्थानों पर बारिश और ओलावृष्टि हुई. इसके साथ ही कई स्थानों पर बिजली भी गिरी.

    क्या होता है पश्चिमी विक्षोभ
    पश्चिमी विक्षोभ भूमध्यरेखा-क्षेत्र में उत्पन्न होने वाली वह बाह्य-उष्णकटिबंधीय आंधी है जो सर्दी में भारतीय उपमहाद्वीप के पश्चिमोत्तर भागों में बारिश लेकर आती है. बारिश मानसून की बरसात से भिन्न होती है. बाह्य-उष्णकटिबंधीय आंधियां विश्व में सब जगह होती हैं. नमी सामान्यतः ऊपरी वायुमंडल तक पहुंच जाती है, जबकि उष्णकटिबंधीय आंधियों में आर्द्रता निचले वायुमंडल में बनी रहती है. भारतीय महाद्वीप में जब ऐसी आंधी हिमालय तक जा पहुंचती है तो नमी कभी-कभी बरसात के रूप में बदल जाती है.

    आपके शहर से (चंडीगढ़)

    Tags: Weather Alert, Weather forecast, Weather updates

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर