Home /News /haryana /

हरियाणा में मौसम: कोहरे और ठंड की दोहरी मार, 21 जनवरी से गरज-चमक के साथ बारिश के आसार

हरियाणा में मौसम: कोहरे और ठंड की दोहरी मार, 21 जनवरी से गरज-चमक के साथ बारिश के आसार

हरियाणा में कोहरे का कहर

हरियाणा में कोहरे का कहर

Haryana Weather Update: 21 जनवरी की रात के बाद 22 जनवरी की अलसुबह 1 से 2 बजे के बीच बारिश की गतिविधियां शुरू होने की प्रबल संभावनाएं हैं. वहीं प्रदेश के कई जिलों में शनिवार और रविवार को शाम तक हल्की से मध्यम बारिश रुक-रुक कर होने की संभावनाएं हैं

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. हरियाणा में इन दिनों ठंड का कहर लगातार जारी है. प्रदेश में कोहरे और ठंड की दोहरी मार पड़ रही है. प्रदेश के ज्यादातर जिलों में इन दोनों का असर काफी है. प्रदेश में शीतलहर (Cold Wave) चल रही है, जिससे आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. गुरुवार को प्रदेश के जिलों में धुंध (Fog) ने दस्तक दी. धुंध और कोहरे ने ठंड बढ़ा दी है. वहीं विजिबिलिटी भी कम हो गई. जिससे वाहनों की रफ्तार धीमी हो गई. वाहन चालक गाड़ियों की लाइन ऑन करने चल रहे हैं.

बता दें कि नए साल के आगमन के बाद से ही मौसम में बदलाव लगातार जारी है. पश्चिमी विक्षोभ के कारण जनवरी में चार बार हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो चुकी है. मौसम विज्ञान विभाग ने शुक्रवार रात से फिर से मौसम में बदलाव होने का अलर्ट जारी किया है.  इस शनिवार को 6 एमएम तक बारिश होने का अनुमान है. वहीं बारिश के साथ ओलावृष्टि की सूचना ने किसानों की चिंताएं बढ़ा दी हैं.

मौसम विभाग की मानें तो 20 जनवरी को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे. इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से प्रदेश में ज्यादातर क्षेत्रों में 21 जनवरी रात व 22 जनवरी को हवाओं व गरज चमक के साथ कहीं-कहीं हल्की बारिश होने की संभावना है.

बता दें कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस सक्रिय मौसम प्रणाली का भारत में प्रवेश होने के कारण उतरी पर्वतीय क्षेत्रों पर भारी मात्रा में हिमपात और उसके वजह से उत्तरी मैदानी राज्यों पर लगातार तापमान में गिरावट के कारण कोल्ड डे की स्थिति और शीतलहर और बीच-बीच में बारिश, ओलावृष्टि व बादलवाही की गतिविधियां होने के बाद कोहरा, धुंध और पाला आदि लगातार जारी है.

Tags: Haryana news, Haryana weather

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर