हरियाणा: सेना में नौकरी लगवाने के लिए 15 लाख ठगे, 2 पर केस दर्ज

आर्मी में भर्ती करवाने के नाम पर ठगी (सांकेतिक तस्वीर)

आर्मी में भर्ती करवाने के नाम पर ठगी (सांकेतिक तस्वीर)

Crime in Haryana: आरोपियों ने भर्ती के लिए 153 इंफेंट्री बटालियन टीए का नियुक्ति पत्र भी दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 1, 2021, 12:44 PM IST
  • Share this:
चरखी दादरी. भारतीय सेना (Indian Army) में भर्ती करवाने के नाम पर 15 लाख रुपये की ठगी (Fraud) करने का मामला सामने आया है. गांव फतेहगढ़ निवासी व्यक्ति की शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने मधमाधवी निवासी अमित और उसके साथी धर्मेंद्र के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. आरोप है कि दोनों ने मिलीभगत कर फर्जी ज्वाइनिंग लेटर भी शिकायतकर्ता को दिया और रुपये वापस देने में अब आनाकानी कर रहे हैं.

पुलिस को दी शिकायत में गांव फतेहगढ़ निवासी ओमप्रकाश ने बताया कि मधमाधवी निवासी धर्मपाल से उसका करीब तीन साल पहले संपर्क हुआ था. उसने उसे बताया कि उसका पोता अमित और उसका साथी धर्मेंद्र युवाओं को सेना में भर्ती करवाते हैं. इस पर उसने अपने लड़के नरेंद्र और भतीजे सुनील कुमार के लिए बात की. इसके बाद अमित और उसका साथी धर्मेंद्र उससे 15 लाख रुपये नकद ले गए. कुछ दिन बाद आरोपियों ने सत्यापन का झूठा पत्र उनके पास भेजा। इसके चलते उन्होंने पुलिस वेरिफिकेशन भी करवाई.

शिकायतकर्ता ने बताया 19 दिसंबर 2019 को उनके पास आरोपियों ने उनके पास 153 इंफेंट्री बटालियन टीए का नियुक्ति पत्र भी भेजा और छह माह में नियुक्ति होने की बात कही. ओमप्रकाश ने बताया कि धर्मेंद्र ने उसकी प्रीतम नामक व्यक्ति से बात करवाई और उसे कर्नल बताया. ओमप्रकाश ने बताया कि जब उन्होंने नियुक्ति पत्र की जांच की तो पता चला कि इस पर लगाई मुहर और हस्ताक्षर जाली है. जब उन्होंने आरोपियों से इस संबंध में बातचीत की तो वे उनके पास आए और नियुक्ति पत्र ले गए. इसके बाद भी आरोपी उनके पास अलग-अलग नंबरों से फोन कर जल्द नियुक्ति होने का आश्वासन देते रहे. शिकायतकर्ता ने बताया कि अब आरोपी 15 लाख रुपये देने में आनाकानी कर रहे हैं. जांच अधिकारी एएसआई विक्रम ने बताया कि इस संबंध में केस दर्ज कर लिया गया है. मामले की जांच पुलिस कर रही है और जो तथ्य सामने आएंगे उसी आधार पर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज