बबीता फोगाट का दावा- किसान आंदोलन के चलते हरियाणा में गठबंधन सरकार पर संकट नहीं

बबीता फोगाट ने किसान आंदोलन को लेकर विपक्ष पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया

बबीता फोगाट ने किसान आंदोलन को लेकर विपक्ष पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया

Kisan Andolan: बीजेपी नेत्री बबीता फोगाट (Babita Phogat) ने कहा कि किसान आंदोलन (Farmers Agitation) के चलते प्रदेश की गठबंधन सरकार पर कोई संकट नहीं है. वार्ता के माध्यम से किसानों की मांग पर जल्द समाधान निकल जाएगा.

  • Share this:
चरखी दादरी. दंगल गर्ल, भाजपा नेत्री व महिला विकास निगम की चेयरमैन बबीता फोगाट (Babita Phogat) ने कृषि कानूनों (Agriculture Laws) को सही ठहराते हुए किसान आंदोलन (Farmers Agitation) को लेकर विपक्ष पर निशाना साधा है. फोगाट ने विपक्ष पर कृषि कानूनों को लेकर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया. हालांकि दावा किया कि किसान आंदोलन के चलते हरियाणा में गठबंधन सरकार पर कोई संकट नहीं है. और जो कोई नेता इस्तीफा दे रहे हैं, वे दोगली राजनीति कर रहे हैं.

बबीता फोगाट ने चरखी दादरी में अपने निवास पर कार्यकर्ताओं से चर्चा की. इस दौरान फोगाट ने कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों की भलाई के लिए कृषि कानून बनाये हैं. इनका भविष्य में किसानों को फायदा मिलेगा. कृषि कानूनों को लेकर किसानों में विपक्ष द्वारा भ्रम फैलाया जा रहा है.

बतौर फोगाट किसानों की मांगों का समाधान सिर्फ वार्ता के माध्यम से ही संभव होगा. इसके लिए केंद्रीय कृषि मंत्री किसानों से वार्ता कर रहे हैं. जिस तरह विपक्ष ने सीएए को लेकर लोगों में भ्रम फैलाया, उसी तरह कृषि कानूनों को लेकर भ्रम का जाल बूना जा रहा है.

बबीता फोगाट ने कहा कि किसान आंदोलन के बीच जो नेता व चेयरमैन इस्तीफा दे रहे हैं, वे भाजपा के सच्चे सिपाही नहीं हो सकते हैं. जिस तरह से दादरी के विधायक सोमबीर सांगवान ने विधानसभा में कृषि कानूनों का समर्थन किया और अब किसान आंदोलन के समय चेयरमैन पद से इस्तीफा दिया है. ऐसे में वे दोगली राजनीति कर रहे हैं. बबीता ने कहा कि किसान आंदोलन के चलते प्रदेश की गठबंधन सरकार पर कोई संकट नहीं है. वार्ता के माध्यम से किसानों की मांग पर जल्द समाधान निकल जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज