हरियाणा: सफाई कर्मचारी ने कर दिखाया कमाल, पेड़ों की टहनियों व तनों को रंगों से उकेरा

पेड़ों पर बनाई पेंटिंग का हर कोई मुरीद

पेड़ों पर बनाई पेंटिंग का हर कोई मुरीद

Charkhi Dadri News: कुछ ही लोग जानते थे कि वाल्मीकि बस्ती में रहने वाला तिलकराज पेंटिंग भी कर लेता है. यही सोचकर नगर परिषद में उससे कुछ स्लोगन बोर्ड आदि बनवाए गए थे.

  • Share this:

चरखी दादरी. कुछ नया करने को दिल चाहे तो कहीं न कहीं रचनात्मक पहल अवश्य होती है. दादरी शहर की नंदीशाला के पास के विशाल वृक्ष (Long Trees) इन दिनों एक नये रंग रूप की वजह से विशेष आकर्षण का केंद्र बनें हुए हैं. नगरपरिषद (City Council) में कार्यरत सफाई कर्मचारी तिलकराज ने अपने मनोभावों को सुंदर रूप प्रदान करते हुए पेड़ों की टहनियों व तनों पर रंगों से उकेरा है. उनके द्वारा बनाएं गए चित्रों को देखकर ऐसा लगता है कि यह काम बाहर से बुलाएं गए किसी माहिर रंगकर्मी से करवाया गया है.

सिर्फ सफाईकर्मी थी पहचान

वृक्षों पर की गई कलाकारी एक गुमनाम कलाकार की देन है जिसकी पहचान केवल सफाईकर्मी तिलक राज तक ही सीमित थी. हालांकि कुछ लोगों को मालूम था कि दादरी की बाल्मिकी बस्ती में रहने वाला तिलकराज छोटा- मोटा पेंटिंग का काम भी कर लेता है. उनके इस छोटे से हुनर की वजह से नगरपरिषद में उनसे स्लोगन बोर्ड आदि बनवाएं गए थे. फिर एक दिन नगर परिषद सचिव प्रशांत पाराशर के मन में ख्याल आया कि क्यूं न शहर की नंदीशाला के आसपास खड़े नीम, पीपल, बड़ आदि वृक्षों पर उभरी हुई आकृतियों को रंग से एक अलग रुप दिया जाएं.

तिलकराज को किया जाएगा सम्मानित
नगरपरिषद चैयरमेन संजय छपारिया ने भी सचिव प्रशांत पाराशर के सुझाव को मानते हुए यह काम तिलकराज को सौंप दिया. इस काम के लिए तिलकराज को बाजार से वाटर कलर उपलब्ध करवाएं गए और फिर उन्होंने गाय, हाथी, ऊंट, बंदर आदि की शानदार चित्रकारी का नमूना पेश किया. नगरपरिषद सचिव प्रशांत पाराशर ने बताया कि भविष्य में दादरी शहर की सुंदरता में चार चांद लगाने के लिए तिलकराज से रोज गार्डन, रेस्ट हाउस, पार्कों, कोर्ट परिसर आदि में भी इस तरह की तस्वीरें बनवाईं जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज