Assembly Banner 2021

हरियाणा: झाड़ियों में मिली गर्भवतियों और बच्चों को दी जाने वाली सरकारी दवा की खेप, जांच के लिए 17 टीमों का गठन

स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच करती हुई.

स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच करती हुई.

Charkhi Dadri News: मामला सामने आते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया और सीएमओ ने तीन सदस्यीय टीम गठित कर जांच की जिम्मेदारी सौंप दी है.

  • Share this:
चरखी दादरी. गर्भवती और बच्चों को दी जाने वाली सरकारी दवाइयों (Government medicines) की खेप रोड किनारे झाड़ियों में मिलने के मामले में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है. वहीं जिला में जांच के लिए 17 टीमों का गठन किया गया है. जांच टीमें आज शाम तक दवाइयों के स्टॉक सहित अन्य बिंदुओं पर अपनी रिपोर्ट देंगी. जिस आधार पर कमेटी द्वारा दो दिन के दौरान रिकॉर्ड खंगालते हुए खुलासा कर सकती हैं.

बता दें कि एक दिन पहले ही घिकाड़ा रोड पर झाडिय़ों में सरकारी दवाइयों की खेप पड़ी मिली थी. जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग में भी हडक़ंप मच गया कि इतनी दवाइयां किस अस्पताल या संस्था द्वारा फेंकी गई हैं. हालांकि पुलिस द्वारा भी अपने स्तर पर जांच की जा रहा है. झाड़िय़ों में मिली सरकारी दवाइयों में बैच 55 व 56 नंबर अंकित है और ये गर्भवती व बच्चों को दी जाती हैं. विभाग की मानें तो दोनों बैचों की करीब 41 हजार बोतलें विभिन्न अस्पतालों व आंगनबाड़ी सहित अन्य संस्थानों में जारी की गई थी.

झाड़िय़ों में मिली दवाइयां किस अस्पताल या संस्था को अलॉट की गई हैं, इस बारे डिप्टी सीएमओ गौरव भारद्वाज की अध्यक्ष में तीन सदस्यों की कमेटी बनाई है और 17 टीमें गठित की हैं. जिनसे विभाग द्वारा स्टॉक व अन्य रिकार्ड सहित रिपोर्ट मांगी है. हालांकि जांच के बाद ही विभाग की लापरवाही का खुलासा होगा.



टीमों का गठन, रिपोर्ट आने के बाद होगी जांच
कमेटी अध्यक्ष व डिप्टी सीएमओ डा. गौरव भारद्वाज ने बताया कि विभाग द्वारा दो बैच की करीब 41 हजार बोतलें जिलेभर में वितरित की गई थी. झाडिय़ों में मिली बैच 55 व 56 की सरकारी दवाइयों की जांच के लिए 17 टीमों का गठन करते हुए रिपोर्ट मांगी है. रिपोर्ट आने के बाद कमेटी द्वारा दो दिन में जांच पूरी की जाएगी। जिस आधार पर ही दोषियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज