चरखी दादरी: इंदिरा कैनाल में आई दरार, सैंकड़ों एकड़ फसल जलमग्न, घरों में घुसा पानी
Charkhi-Dadri News in Hindi

चरखी दादरी: इंदिरा कैनाल में आई दरार, सैंकड़ों एकड़ फसल जलमग्न, घरों में घुसा पानी
कैनाल में आई दरार से खेतों में घुसा पानी

ग्रामीणों ने बताया कि अल सुबह करीब 4 बजे उनको पता चला कि इंदिरा कैनाल टूटने के कारण तेज गति से पानी गांव की ओर आ रहा है. उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद पानी को रोकने का प्रयास भी किया. लेकिन बहाव इतना तेज था कि घरों में भी घुस गया.

  • Share this:
चरखी दादरी. जिले के गांव बरसाना और अटेला के बीच से निकलने वाली इंदिरा कैनाल (Indira Canal) में करीब 20 फूट चौड़ी दरार आने से आसपास के क्षेत्रों में सैंकड़ों एकड़ फसल (Crop) बर्बाद हो गई. देर रात नहर टूटने से खेतों में 8 फूट तक पानी जमा हो गया. पानी का बहाव इतना तेज था कि खेतों में कटाव होने के साथ-साथ घरों में भी पानी घुस गया.

किसानों (Farmer) व ग्रामीणों (Villagers) ने नहर टूटने के मामने में घटिया मैटिरियल लगाना बताया. वहीं उन्होंने सरकार व प्रशासन से उचित मुआवजा की मांग की है. उधर विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर पानी को पीछे से बंद करवाया और नहर की दरार को पाटने का कार्य शुरू कर दिया है.

ग्रामीणों ने बताया कि अल सुबह करीब 4 बजे उनको पता चला कि इंदिरा कैनाल टूटने के कारण तेज गति से पानी गांव की ओर आ रहा है. उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद पानी को रोकने का प्रयास भी किया. लेकिन बहाव इतना तेज था कि घरों में भी घुस गया.



ग्रामीणों ने बताया कि इंदिरा कैनाल में कुछ दिन पूर्व निर्माण कार्य किया गया था, जिस दौरान घटिया मैटिरियल लगाने से नहर में दरार आई. पानी से सैंकड़ों किसानों की फसलें बर्बाद हो गई वहीं घरों में भी काफी नुकसान हुआ है. वहीं नहर टूटने के बाद सिंचाई विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर पीछे से पानी को बंद करवाया और नहर की दरार को पाटने का कार्य शुरू कर दिया है.
ये भी पढ़ें-

रेलवे लाइन पार करते समय युवती का पैर ट्रैक में फंसा, ट्रेन से कटकर मौत

जानलेवा बना जहरीला धुआं, भिवानी-हिसार मार्ग पर सड़क हादसे में युवक की मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज