• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • रोडवेज में किलोमीटर स्कीम घोटाले की जांच की मांग, 8 जनवरी को बसों का चक्का जाम

रोडवेज में किलोमीटर स्कीम घोटाले की जांच की मांग, 8 जनवरी को बसों का चक्का जाम

रोडवेज कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

रोडवेज कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

कर्मचारियों का कहना है कि जनता और कर्मचारियों की मांग लगातार सरकारी बसें बढ़ाने की है, फिर भी सरकार अपने चहेते साहूकारों को फायदा पहुंचाने के लिये प्राइवेट बसें ठेके पर लेकर चलाने की जिद्द अड़ी है.

  • Share this:
चरखी दादरी. रोडवेज तालमेल कमेटी के आह्वान पर दादरी रोडवेज डिपो के कर्मचारियों ने किलोमीटर स्कीम घोटाले (Kilometer Scheme Scam) की जांच करवाने सहित विभिन्न मांगों (Different Demands) को लेकर दो घंटे का विरोध करते हुए प्रदर्शन किया. इस दौरान रोडवेज कर्मचारियों को दूसरे विभागों का भी समर्थन मिला. कर्मचारियों ने अल्टीमेटम दिया कि उनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो 8 जनवरी को होने वाली राष्ट्रव्यापी हड़ताल के दौरान रोडवेज बसों का चक्का जाम होगा.

बता दें कि हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी द्वारा तय कार्यक्रम के अनुसार दादरी बस स्टैंड पर रोडवेज की सभी यूनियनों ने एकजुट होते हुए वर्कशाप परिसर में मीटिंग की. मीटिंग के बाद कर्मचारियों ने रोष प्रदर्शन करते हुए प्रदेश सरकार पर वायदा खिलाफी का आरोप लगाया। प्रदर्शन में सर्व कर्मचारी संघ, सीटू, किसान सभा, आशा वर्कर्स यूनियन सहित कई विभागों के कर्मचारी शामिल हुए. कर्मचारियों नेताओं ने परिवहन मंत्री के किलोमीटर स्कीम के तहत 190 प्राइवेट बसें चलाने के ब्यान पर तीखी प्रतिक्रिया करते हुए कहा रोड़वेज कर्मचारी प्राइवेट बसें चलाने का लगातार विरोध जारी रहेगा.

उनका कहना है कि जनता और कर्मचारियों की मांग लगातार सरकारी बसें बढ़ाने की है, फिर भी सरकार अपने चहेते साहूकारों को फायदा पहुंचाने के लिये प्राइवेट बसें ठेके पर लेकर चलाने की जिद्द अड़ी है. अगर निजी बसों को रोड पर उतारा गया तो रोडवेज कर्मचारी उनको चलने नहीं देंगे. प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे रोडवेज तालेल कमेटी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रणबीर गहलौत ने कहा कि 510 प्राइवेट बसों के टेंडर प्रकिया में विजिलेंस जांच में 900 करोड़ रुपये का घोटाला साबित हुआ है, जिसमें विभाग के उच्च अधिकारियों व परिवहन मंत्री को दोषी ठहराया गया है.

दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग

इस पूरे मामले की विजीलेंस जांच हो और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. साथ ही अल्टीमेटम दिया कि सरकार ने उनकी मांगों को पूरा नहीं किया तो 8 जनवरी को रोडवेज बसों का पूरी तरह से चक्का जाम होगा. कर्मचारियों की यह हड़ताल अनिश्चितकालीन भी हो सकती है.

 

ये भी पढ़ें:- तेज रफ्तार एक्टिवा खंभे से टकराई, पिता औऱ 6 साल के बेटे की मौत

चरखी दादरी में घर के बाहर खड़ी कार धूं-धूं कर जली, लाखों का नुकसान

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज