ईद मुबारक: हरियाणा में घरों में अदा की गई नमाज, कोरोना खत्म होने की मांगी दुआ

हरियाणा में ईद का त्यौहार कोरोना गाइडलाइन के बीच मनाया गया.

हरियाणा में ईद का त्यौहार कोरोना गाइडलाइन के बीच मनाया गया.

Eid Celebration: मुस्लिम समाज के लोगों ने घरों पर ही नमाज अदा करते हुए अल्लाह से मुल्क में कोरोना का संकट खत्म करने के साथ-साथ अमन और चैन की दुआ मांगी.

  • Share this:

चरखी दादरी. कारोना जैसी वैश्चिक महामारी को खत्म करने की दुआ करते हुए मुस्लिम समाज ने ईद के मौके पर अपने घरों में ही नमाज अदा की. लॉकडाउन (Lockdown) के कारण जिले में सभी मस्जिदें बंद हैं. ऐसे में समाज के लोगों ने अपने घरों पर ही ईद उल फितर का त्यौहार मनाया. इस दौरान मुस्लिम समाज ने देश में अमन चैन के लिए देश से कोरोना खत्म होनी की भी दुआ की. कोरोना को लेकर लगे लॉकडाउन के दौरान मस्जिदें बंद की गई हैं. ऐसे में मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने घरों पर ही ईद इल फितर का त्यौहार मनाते हुए नमाज अदा की गई.

मुस्लिम समाज के युसुफ अली ने बताया कि ईद एक पवित्र त्यौहार है, जो सबको मिलजुल कर चलने और भाईचारे का संदेश देता है. इस बार सरकार के निर्देश अनुसार समाज के लोगों ने घर पर ही ईद का त्यौहार मनाने की बात की गई है. ऐसे में घरों पर ही नमाज अदा करते हुए अल्लाह से मुल्क में कोरोना का संकट खत्म करने के साथ-साथ अमन और चैन की दुआ मांगी.

वहीं महिला आमना ने बताया कि कोरोना को देखते हुए घरों में ही रहकर ईद का त्यौहार मना रहे हैं. इस त्यौहार पर मिठाइयां बनाते हुए एक-दूसरे को शुभकामनाएं दी हैं. अमन और चैन क इस त्यौहार के मौके  पर मुस्लिम भाईयों को हिन्दू, सिख और ईसाई भाइयों ने भी मुबारकबाद दी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज