बुजुर्ग ने जमीनी विवाद और पुलिस से परेशान होकर Suicide नोट लिखा और कर ली आत्महत्या
Charkhi-Dadri News in Hindi

बुजुर्ग ने जमीनी विवाद और पुलिस से परेशान होकर Suicide नोट लिखा और कर ली आत्महत्या
चरखी दादरी जिले के गांव भागेश्वरी में जमीनी विवाद से परेशान एक रिटायर्ड कर्मचारी ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाकर आत्महत्या कर ली है.

चरखी दादरी जिले के गांव भागेश्वरी में जमीनी विवाद से परेशान एक रिटायर्ड कर्मचारी ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है.

  • Share this:
चरखी दादरी. हरियाणा में चरखी दादरी जिले के गांव भागेश्वरी में जमीनी विवाद से परेशान एक रिटायर्ड कर्मचारी (Retired Employee) ने पुलिस (Police) पर गंभीर आरोप लगाते हुए फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली है. पुलिस को मृतक की जेब से तीन पेज का सुसाइड नोट (Suicide Note) मिला भी मिला है. पुलिस ने सुसाइड नोट अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. वहीं परिजनों ने पुलिस व गांव के ही कुछ लोगों पर आरोप लगाए हैं. चरखी दादरी जिले के गांव भागेश्वरी के निवासी रामरतन ने शनिवार को दोपहर के बाद घर पर ही पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली. घटना के समय घर पर कोई नहीं था.

रामरतन कई दिनों से मानसिक रूप से चल रहा था बीमार

पड़ोसियों ने जब रामरतन को फंदे से लटका देखा तो परिजनों और पुलिस को सूचित किया. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए दादरी के सिविल अस्पताल में भेज दिया है. परिजनों की मानें तो मृतक रामरतन कई सालों से अपने परिवार के साथ नजफगढ़ में रहता था. मृतक रामरतन रोडवेज विभाग से सब इंसपेक्टर की पोस्ट से 2014 में रिटायर्ड हुआ था. रिटायरमेंट के बाद ही वह अपनी पुस्तैनी जमीन की देखभाल कर रहा था. वह अपनी जमीन को लेकर पिछले कई दिनों से मानसिक रूप से परेशान चल रहा था.



जमीन विवाद की शिकायत लिखवाने के पुलिस ने मांगे थे 25 हजार रुपये
मृतक के बेटे पवन ने बताया कि वर्ष 2018 में उन्होंने जमीनी विवाद को लेकर अचीना ताल चौकी में शिकायत देने का प्रयास किया था, लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज करने के एवज में उनसे 25 हजार रुपये मांगे थे. पवन ने बताया कि उनके पिता ने पुलिस को पैसे देने से मना कर दिए थे. उनके पिताजी को बार-बार जान से मारने की धमकी दी जाती थी. पिछले महीने उन्होंने अपनी शिकायत पुलिस अधीक्षक को दी थी. इसके बाद पुलिस कुछ हरकत में हुई थी लेकिन दो दिन पहले पुलिस चौकी में उन्हें बुलाकर काफी प्रताड़ित किया गया था. यही वजह है कि उन्होंने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली.

मृतक ने सुसाइट नोट में मानसिक परेशानी देने वाले के बारे में लिखा

मृतक रामरतन ने आत्महत्या से पहले सारी घटनाएं और मानसिक परेशानी देने वाले लोगों के बारे में तीन पन्नों के सुसाइड नोट में लिखा. वहीं डीएसपी बाली सिंह ने बताया कि पुलिस ने सुसाइड नोट अपने कब्जे में ले लिया है. शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद पुलिस मामले की जांच कर कार्रवाई करेगी.

यह भी पढ़ें: नैना चौटाला ने अशोक तंवर के जजपा में शामिल होने के दिए संकेत, कहा- सरकार बनाने में मिलेगी मजबूती

कांग्रेस छोड़ने वाले अशोक तंवर के BJP में शामिल को लेकर CM खट्टर ने कही ये बात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading