होम /न्यूज /हरियाणा /

चरखी दादरीः सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरे बिजली कर्मचारी, अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी

चरखी दादरीः सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरे बिजली कर्मचारी, अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी

बिजली बिल संशोधन 2022 के विरोध सहित अपनी विभिन्न मांगों को लेकर बिजली कर्मचारी एक बार फिर से हड़ताल पर जाएंगे.

बिजली बिल संशोधन 2022 के विरोध सहित अपनी विभिन्न मांगों को लेकर बिजली कर्मचारी एक बार फिर से हड़ताल पर जाएंगे.

Haryana Electricity Employees Strike: बिजली बिल संशोधन 2022 के विरोध सहित अपनी विभिन्न मांगों को लेकर बिजली कर्मचारी एक बार फिर से हड़ताल पर जाएंगे. इसके लिए कर्मचारियों ने आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है. उन्होंने ब्लैक डाउन करने की चेतावनी भी दे दी है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

नारेबाजी कर दिया धरना, मांगें नहीं मानी तो करेंगे ब्रेक डाउन
12 सूत्रीय मांगों पर अड़े कर्मचारी, बोले- होगी आरपार की लड़ाई

प्रदीप कुमार साहू

चरखी दादरी. बिजली बिल संशोधन 2022 के विरोध सहित अपनी विभिन्न मांगों को लेकर बिजली कर्मचारी एक बार फिर से हड़ताल पर जाएंगे. इसके लिए कर्मचारियों ने आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है. कर्मचारी सरकार से बेहद खफा हैं और इसके चलते उन्होंने ब्लैक डाउन करने की चेतावनी भी दे दी है. प्रदर्शन करते हुए कर्मचारियों ने कहा है कि अगर सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो वह हड़ताल अनिश्चितकालीन भी कर सकते हैं.

दादरी के बिजली निगम कार्यकारी अभियंता कार्यालय के समक्ष कर्मचारी एकजुट हुए और अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया. बिजली बिल संशोधन 2022 के विरोध करने सहित कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, ऑनलाइन ट्रांसफर, राइट टू सर्विस एक्ट के खिलाफ रोष मीटिंग करते हुए धरना दिया.

नारेबाजी कर दिया धरना, मांगें नहीं मानी तो करेंगे ब्रेक डाउन
धरने पर कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष प्रदर्शन किया. कर्मचारियों ने कहा कि इस बार आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे और जरूरत पड़ी तो हड़ताल पर जाएंगे और ब्रेक डाउन करेंगे. कर्मचारियों ने कहा कि सरकार से कई बार कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने की मांग की गई है, लेकिन सरकार उनकी मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.

12 सूत्रीय मांगों पर अड़े कर्मचारी, बोले- होगी आरपार की लड़ाई
कर्मचारी नेता विक्रम सांगवान ने कहा कि लंबे समय से हमारी मांगे लंबित हैं, जिन पर सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही है. बिजली बिल संशोधन 2022 लागू होने से कर्मचारियों के साथ-साथ आमजन को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा. बिजली कर्मियों की 12 सूत्रीय मांगों को लेकर कर्मचारी एकजुट हैं और आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार हैं.

Tags: Charkhi dadri news, Haryana news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर