पूर्व मुख्यमंत्रियों ने मिलकर हरियाणा को जलवाया : राजकुमार सैनी

लोकतंत्र सुरक्षा मंच के अध्यक्ष व कुरुक्षेत्र से बीजेपी सांसद राजकुमार सैनी का कहना है कि जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान पूर्व मुख्यमंत्रियों ने मिलकर हरियाणा को जलवाया था.

Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: August 12, 2018, 12:27 AM IST
पूर्व मुख्यमंत्रियों ने मिलकर हरियाणा को जलवाया : राजकुमार सैनी
ग्रामीणों ने साफा पहनाकर राजकुमार सैनी का सम्‍मान किया.
Pardeep Sahu
Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: August 12, 2018, 12:27 AM IST
लोकतंत्र सुरक्षा मंच के अध्यक्ष व कुरुक्षेत्र से बीजेपी सांसद राजकुमार सैनी ने जाट आरक्षण के दौरान हरियाणा में हुई हिंसा का आरोप विपक्षी पार्टियों पर लगाया है. उन्‍होंने कहा कि हरियाणा में सत्ताधारी रहे लोग मनोहरलाल को सीएम के रूप में नहीं देखना चाहते थे, इसलिए पूर्व मुख्यमंत्रियों ने मिलकर हरियाणा को जलवाया.

राजकुमार सैनी चरखी दादरी जिले के गांव बौदकलां, सांवड़ व मिसरी में ग्रामीण सभाओं को संबोधित करने के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे. उन्‍होंने कहा कि एक विशेष बिरादरी सरकार पर दबाव बनाकर जाट आरक्षण आंदोलन को लेकर दर्ज मुकदमों को वापस करवा रही है, जबकि अन्य बिरादरियों के लोगों पर दर्ज मुकदमे वापस नहीं लिए. हम अगामी चुनाव में सरकार बनाकर ऐसे लोगों पर दर्ज मुकदमों की फाइलों को अलमारी में बंद कर देंगे.

इससे पहले सैनी ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि वे 2 सितंबर को पानीपत में नई पार्टी की घोषणा करेंगे और आगामी लोकसभा व विधानसभा चुनाव में सभी सीटों पर नए चेहरों को मैदान में उतारेंगे. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बनने पर सबसे पहले आरक्षण के दौरन दूसरी बिरादरियों के खिलाफ दर्ज हुए मुकदमे वापस लेकर फाइलों को अलमारी में बंद कर देंगे. क्योंकि आरक्षण के दौरान सत्ताधारी लोगों ने एक विशेष बिरादरी को नौकरियां दी हैं.

नौकरियों से संबंधित डेटा दिखाते हुए सैनी ने कहा कि 10 फीसदी आबादी वाली सिर्फ एक बिरादरी के लोगों को 51 प्रतिशत नौकरियां दी गई हैं. यह पूरा मामला पिछले मुख्यमंत्रियों ने करके अन्य बिरादरियों के साथ भेदभाव किया. सैनी ने कहा कि कोई भी ये साबित कर दे कि मैं किसी एक जाति विशेष के खिलाफ जहर उगल रहा हूं, तो उसी दिन राजनीति से संन्यास ले लूंगा. वहीं सैनी ने कहा कि इनेलो एसवाईएल पर नौटंकी कर रही है. हरियाणा में अपनी सरकार बनने पर वे सबसे पहले एसवाईएल का पानी लाकर दिखाएंगे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर