अधिकारी से तंग आकर हरियाणा रोडवेज के कंडक्टर ने खाया जहर, PGI रेफर
Charkhi-Dadri News in Hindi

अधिकारी से तंग आकर हरियाणा रोडवेज के कंडक्टर ने खाया जहर, PGI रेफर
हरियाणा रोडवेज के एक अधिकारी से परेशान कंडक्टर ने दादरी बस स्टैंड पर जहर खा लिया.

हरियाणा रोडवेज के एक कंडक्टर ने अपने अधिकारी से परेशान होकर दादरी बस स्टैंड पर जहर खा लिया. आरोप यह है कि अधिकारी उसे एक साल से प्रताड़ित कर रहा था.

  • Share this:
चरखी दादरी, हरियाणा रोडवेज (Haryana Roadways) के एक अधिकारी (Officer) से परेशान कंडक्टर (Conducter) ने दादरी बस स्टैंड (Bus Stand) पर जहर (Poision) निगल गया. इसके चलते उसकी हालत खराब हो गई और बेहोश होकर गिर पड़ा. कंडक्टर द्वारा जहर निगलने की सूचना पर विभाग में भगदड़ मच गई और उसे दादरी के सरकारी अस्पताल (government Hospital) में भर्ती करवाया. चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार (First Aid) के बाद कंडक्टर को रोहतक पीजीआई (PGI Rohtak) रेफर कर दिया. परिजनों की मानें तो कंडक्टर फूल कुमार एक रोडवेज अधिकारी द्वारा लगातार प्रताड़ित किए जाने से परेशान था. इसके चलते उसने कंडक्टर ने ऐसा कदम उठाया है.

जहर निगलते ही बेहोश होकर गिर पड़ा था कंडक्टर

हरियाणा रोडवेज दादरी डिपो में कार्यरत कंडक्टर फूल कुमार ने मंगलवार दोपहर बस स्टैंड पर ही संदिग्ध हालातों में जहरीले पदार्थ का सेवन कर दिया. जहर के प्रभाव से कंडक्टर की हालत खराब हो गई और वह बेहोश होकर गिर पड़ा. रोडवेज कर्मचारियों ने तुरंत कंडक्टर फूल कुमार को दादरी के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया. इस दौरान रोडवेज के साथी कर्मचारी भी अस्पताल पहुंच गए.



अधिकारी एक वर्ष से कर रहा था परेशान
Haryana Roadways-हरियाणा रोडवेज
परिजनों की मानें तो कंडक्टर फूल कुमार एक रोडवेज अधिकारी द्वारा लगातार प्रताड़ित किए जाने से परेशान था.


अस्पताल में उपचाराधीन कंडक्टर ने बताया कि पिछले एक वर्ष से दादरी डिपो में कार्यरत एक अधिकारी उसे लगातार प्रताड़ित कर रहा था. उसने आरोप लगाते हुए कहा कि उक्त अधिकारी बार-बार उसकी झूठी रिपोर्ट बनाकर उच्चाधिकारियों को भेजता और उसे टर्मिनेट करवाने की धमकी दे रहा था. कंडक्टर ने बताया कि उसने राष्ट्रपति, सीएम विंडो व उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर उचित कार्रवाई की मांग की थी. कुछ रोज पूर्व भी उक्त अधिकारी द्वारा उसकी झूठी रिपोर्ट बनाकर जातिसूचक गालियां देते हुए देख लेने की धमकी दी थी. मैंने प्रताड़ित होकर यह कदम उठाया है.

'समय पर अधिकरी के खिलाफ कार्रवाई हो जाती है तो वह ऐसा कदम नहीं उठाता'

कंडक्टर के भाई दीपक कुमार ने बताया कि रोडवेज में कार्यरत उपनिरीक्षक से परेशान होकर फूल कुमार ने जहर खाया है. अगर समय पर उक्त अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई हो गई होती तो वह ऐसा नहीं करता. कंडक्टर द्वारा जहर खाने की सूचना पर सिटी पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़ित के बयान दर्ज कर लिया गया है. चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया.

यह भी पढ़ें: गेस्ट टीचरों ने खून से लिखा पीएम मोदी को खत, कहा-हमें जल्दी पक्का करो

 जजपा के नेता दिग्विजय चौटाला ने कहा, हरियाणा के सीएम अहंकार के नशे में चूर हैं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज