लाइव टीवी

चरखी दादरी में भ्रूण लिंग जांच गिरोह का भंडाफोड़, दो आरोपी काबू

Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: December 10, 2019, 2:11 PM IST
चरखी दादरी में भ्रूण लिंग जांच गिरोह का भंडाफोड़, दो आरोपी काबू
भ्रूण लिंग जांच के नाम पर लोगों से ऐंठते थे पैसे

आरोपी लिंग जांच कराने की बजाय सामान्य अल्ट्रासाउंड ही कराते थे और इसकी रिपोर्ट पर ही लड़का या लड़की होने की बात कह देते थे.

  • Share this:
चरखी दादरी. स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की रोहतक (Rohtak) और झज्जर (Jhajjar) की संयुक्त टीम ने बीती रात दादरी शहर में एक लैब पर छापेमार कार्रवाई करते हुए भ्रूण लिंग जांच कराने की एवज में रुपये ऐंठने वाले दो आरोपियों को रंगेहाथ गिरफ्तार (Arrest) किया है. आरोपी लिंग जांच कराने की बजाय सामान्य अल्ट्रासाउंड ही कराते थे और इसकी रिपोर्ट पर ही लड़का या लड़की होने की बात कह देते थे. जांच के नाम पर ये प्रति केस करीब 35 हजार रुपये ऐंठते थे. टीम ने आरोपियों से 19 हजार रुपये भी बरामद हुए हैं. टीम की शिकायत के आधार पर सिटी पुलिस ने केस दर्ज किया है. वहीं जांच में सामने आया है कि आरोपी फेसबुक पर भ्रूण जांच की डिटेल रखते थे.

जानकारी के अनुसार रोहतक सीएमओ को सूचना मिली थी कि दादरी, रोहतक और झज्जर जिले में एक ऐसा गिरोह सक्रिय है, जो भ्रूण लिंग जांच के नाम पर लोगों से रुपये ऐंठता है. यह गिरोह सामान्य अल्ट्रासाउंड कराता है और उसकी रिपोर्ट गर्भवती महिला या परिजन को थमाकर लड़का या लड़की होने की बात कह देता है.

दीप डायग्नोस्टिक सेंटर पर छापेमार कार्रवाई की

गिरोह के लोग चरखी दादरी, झज्जर और रोहतक शहर के अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउंड कराते हैं. रोहतक स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जानकारियां हासिल की तो झज्जर और चरखी दादरी जिलों के रहने वाले तीन लोगों के नाम सामने आए. रविवार देर रात स्वास्थ्य विभाग की टीम दादरी के लोहारू रोड स्थित दीप डायग्नोस्टिक सेंटर पर छापेमार कार्रवाई की.

दो आरोपियों को पकड़ा

स्वास्थ्य विभाग रोहतक से डॉ. संदीप, डॉ. विकास सैनी, झज्जर से डॉ. अचल त्रिपाठी व डॉ. ममता और चरखी दादरी स्वास्थ्य विभाग से डॉ. अंकुर व डॉ. संजय गुप्ता की संयुक्त टीम कार्रवाई करते हुए चरखी गांव निवासी आरोपी सुनील और झज्जर जिले के भिंडावास गांव निवासी सोनू उर्फ धर्मेंद्र को दादरी शहर के लोहारू रोड से गिरफ्तार कर लिया.

दोनों आरोपी 12वीं पासडॉ. विकास सैनी ने बताया कि आरोपियों ने यहां केवल अल्ट्रासाउंड कराया था और अस्पताल प्रबंधन ने इसके लिए जरूरी सभी औपचारिकताएं पूरी करवाई हुई थी. उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपी सुनील और धर्मेंद्र 12वीं पास हैं. उनका चार लोगों का गिरोह है और उनके गिरोह के दो लोग अभी फरार हैं. तीसरा आरोपी विजय झज्जर का रहने वाला है, जबकि चौथे आरोपी का पकड़े गए दोनों आरोपियों ने नाम नहीं बताया था.

पिछले डेढ़ साल से काम कर रहा ये गिरोह

दोनों आरोपियों ने बताया कि उनका गिरोह पिछले डेढ़ साल से ये काम कर रहा है और वो करीब सौ से अधिक लोगों से भ्रूण लिंग जांच के नाम पर रुपये ऐंठकर अल्ट्रासाउंड करवा चुके हैं. आरोपी करीब 30 से 35 लाख रुपये लोगों से पिछले डेढ़ साल में ऐंठ चुके हैं. आरोपियों ने डिकॉय पेशेंट की भ्रूण लिंग जांच के लिए 35 हजार रुपये मांगे थे. रविवार को झज्जर में रुपये आरोपियों को दे दिए गए थे और सोमवार को उन्होंने डिकॉय पेशेंट को चरखी दादरी के दीप डायग्नोस्टिक सेंटर में बुलाया था. यहां सामान्य अल्ट्रासाउंड कराने के बाद डिकॉय को बेटा होने की आरोपियों ने बात कही और टीम ने उन्हें धर दबोचा.

ये भी पढ़ें:- रेवाड़ी: युवती की गोली मारकर हत्‍या, रेप की भी आशंका

ये भी पढ़ें:- गैंगस्टर अशोक राठी मर्डर केस: पुलिस ने 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चरखी दादरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 10:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर