लाइव टीवी

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019: दादरी के दावेदारों ने दिल्ली में डेरा डाला, टिकट पाने के लिए मारामारी

Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: September 29, 2019, 9:59 AM IST
हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019: दादरी के दावेदारों ने दिल्ली में डेरा डाला, टिकट पाने के लिए मारामारी
दादरी विधानसभा सीट से प्रमुख पार्टियों द्वारा अभी प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की गई है. सभी प्रमुख दलों के नेताओं ने दिल्ली में डेरा डाला हुआ है और टिकट पाने के लिए लॉबिंग कर रहे हैं.

सभी प्रमुख दलों के नेताओं ने दिल्ली में डेरा डाला हुआ है और टिकट पाने के लिए लॉबिंग कर रहे हैं. फील्ड को छोड़कर सभी पार्टियों के नेता दिल्ली में टिकट के लिए मारामारी कर रहे हैं.

  • Share this:
चरखी दादरी. विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Election 2019) को लेकर नामांकन प्रक्रिया (Nomination Process) शुरू हो चुकी है. इसके बावजूद दादरी विधानसभा सीट (Dadri Assembly Seat) से प्रमुख पार्टियों द्वारा अभी प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की गई है. सभी प्रमुख दलों के नेताओं ने दिल्ली में डेरा डाला हुआ है और टिकट पाने के लिए लॉबिंग कर रहे हैं. भाजपा (BJP) से एक ओर जहां करीब दर्जन भर नेता अपनी दावेदारी जता रहे हैं, वहीं कांग्रेस (Congress) व जजपा (JJP) पार्टी से भी टिकट पाने वालों की सूची लंबी है. फील्ड को छोड़कर सभी पार्टियों के नेता दिल्ली में टिकट के लिए मारामारी कर रहे हैं.

उम्मीदवारी तय करने में सांगवान और फौगाट गोत्र की रहेगी भूमिका

किसान व जाट बहुल्य दादरी विधानसभा क्षेत्र में अब से पहले चौधरी देवीलाल अथवा चौधरी बंसीलाल का प्रभाव रहा है. दोनों के आशीर्वाद प्राप्त उम्मीदवार ही अधिकांश बार यहां से चुनाव जीतते रहे हैं. उम्मीदवारी तय करने में सांगवान व फौगाट गौत्र की काफी भूमिका हो सकती है. एकाध अपवाद को छोड़कर यहां से आमतौर पर सांगवान व फौगाट गौत्र के विधायक चुने जाते रहे हैं. हालांकि इस बार इस सीट पर नॉन जाट के अनेक नेता भी अपनी दावेदारी जता रहे हैं. वर्तमान में यहां से इनेलो के विधायक हैं जिनकी सदस्यता रद्द हो चुकी है और फिलहाल वे जजपा के समर्थन में खड़े हैं. बदले हालात में दादरी क्षेत्र से सभी पार्टियों के जाट व नॉन जाट नेताओं की लंबी सूची है.

भाजपाई दावेदारों की संख्या बढ़ी, भाजपा पेश करेगी मजबूत दावेदारी

हरियाणा का नया जिला बनने के बाद से दादरी सीट पर भाजपा की टिकट पाने के लिए दावेदारों की संख्या बढ़ी है. भाजपा इस सीट को जीतने के लिए मजबूत दावेदारी पेश करेगी. भाजपा से टिकट के लिए दावेदारों ने दौड़ धूप शुरू कर दी है. यहां दावेदारों की सूची में सांगवान खाप के प्रधान व 2014 के चुनाव में भाजपा की टिकट से चुनाव लडऩे वाले सोमबीर सांगवान, हाल ही में भाजपा में शामिल होने वाली अंतर्राष्ट्रीय महिला रेसलर बबीता फौगाट, पूर्व सीएम मास्टर हुक्म सिंह के बेटे राजबीर सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष रामकिशन शर्मा, कर्नल सुनील शर्मा, सतेंद्र परमार, अुर्जन अवार्डी राजकुमार सांगवान आदि प्रमुख हैं.

खोया जनाधार पाने के लिए कांग्रेस की है लंबी सूची

लंबे समय बाद वर्ष 2005 में इस सीट पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी, जिसके बाद से कांग्रेस पार्टी इस क्षेत्र से पिछड़ती गई. इस बार अपने खोये जनाधार को पाने के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा मजबूत उम्मीदवार मैदान में उतारना चाहेगी. यहां से प्रमुख दावेदारी जताने वालों में पूर्व सहकारिता मंत्री सतपाल सांगवान, प्रदेश सचिव अजीत फौगाट, पूर्व विधायक नृपेंद्र सांगवान, हजकां से 2014 को चुनाव लड़ चुके सुरेंद्र परमार हैं. वहीं इस सीट से युवा टीम में जिलाध्यक्ष अनिल धनखड़ व समाजसेविका मनीषा सांगवान भी अपनी दावेदारी जता रहे हैं.
Loading...

कब्जा बरकरार रखने के लिए जजपा बना रही रणनीति

वर्ष 2014 के चुनाव में इनेलो की टिकट से राजदीप फौगाट विधायक बने थे. इसके बाद में वे जजपा के समर्थन में आ गए. जजपा द्वारा इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखने के लिए रणनीति के तहत उम्मीदवार मैदान में उतारेगी. फिलहाल यहां से टिकट के लिए दावेदारों में राजदीप फौगाट, हलकाध्यक्ष कुलदीप सांगवान चरखी, प्रदेश युवा प्रधान महासचिव रब्बू पंवार, महिला जिलाध्यक्ष लक्ष्मी बलौदा व जिला पार्षद राजेश फौगाट आदि शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: सोनीपत डबल मर्डर: 'एक ने मेरे भाई को हनीट्रैप में फंसाया और दूसरी उसकी मौत के लिए जिम्मेदार'

AAP पार्टी नेता नवीन जयहिंद ने कहा, जनता CM को हरिद्वार भेजने का काम करेगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चरखी दादरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 9:51 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...