होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणाः चरखी दादरी के गर्वदीप मौत मामले में आधा दर्जन आरोपी गिरफ्तार, दो अब भी फरार

हरियाणाः चरखी दादरी के गर्वदीप मौत मामले में आधा दर्जन आरोपी गिरफ्तार, दो अब भी फरार

हरियाणा भिवानी के पत्रकार कृष्ण सरदार के 17 वर्षीय बेटे गर्वदीप की मौत पर पुलिस कर रही है हर पहलू पर जांच.

हरियाणा भिवानी के पत्रकार कृष्ण सरदार के 17 वर्षीय बेटे गर्वदीप की मौत पर पुलिस कर रही है हर पहलू पर जांच.

Charkhi Dadri News: एसआईटी इंचार्ज और डीएसपी देशराज ने बताया कि गर्वदीप की हत्या नहीं की गई थी. ग्रामीणों ने बाइकों पर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

डीएसपी ने बाइक सवार गर्वदीप के साथ बैठी युवती के बारे में कुछ भी बताने से इंकार कर दिया.
भिवानी के पत्रकार कृष्ण सरदार के 17 वर्षीय बेटा गर्वदीप का गांव दूधवा के समीप खेतों में शव मिला था.

प्रदीप साहू

चरखी दादरी. हरियाणा के भिवानी निवासी 17 वर्षीय गर्वदीप की मौत के मामले में पुलिस ने आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है. जबकि दो अन्य आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं. पुलिस उपाधीक्षक देशराज ने कहा कि जांच में सामने आया है कि गर्वदीप की हत्या नहीं बल्कि बाइक सवारों के पीछा करने के भय से दुघर्टना में मौत हुई थी. हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पूरा मामला स्पष्ट होगा, जिसके बाद पुलिस द्वारा आगामी कार्रवाई की जाएगी. पुलिस कई पहलुओं पर जांच भी कर रही है.

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
बता दें कि दो दिन पहले भिवानी के पत्रकार कृष्ण सरदार के 17 वर्षीय बेटा गर्वदीप का गांव दूधवा के समीप खेतों में शव मिला था. जिसे पुलिस द्वारा दुघर्टना मानते हुए कार्रवाई की गई. इस मामले में परिजनों द्वारा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज पुलिस को देते हुए हत्या करने का आरोप लगाया था. पुलिस ने इस संबंध में आईपीसी की धारा 304 व 34 के तहत केस दर्ज किया था. इस पर भिवानी व दादरी के पत्रकारों द्वारा डीसी, एसपी को ज्ञापन सौंपते हुए हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की थी. एसपी दीपक गहलावत ने डीएसपी देशराज की अध्यक्षता में एसआईटी गठित करते हुए जांच का भरोसा दिया था.

बाइक पर पीछे बैठी युवती के बारे में नहीं दी जानकारी
एसआईटी इंचार्ज व डीएसपी देशराज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गर्वदीप की हत्या नहीं बल्कि ग्रामीणों द्वारा बाइकों पर सवार होकर गर्वदीप का पीछा किया गया था. जिसके भय के कारण गर्वदीप की बाइक खेतों में एक पोल से टकरा गई और उसकी मौके पर ही मौत हुई. बाइक का पीछा करने वाले गांव दूधवा के ग्रामीण धर्मेंद्र, प्रदीप, मनोज, अमरजीत, मोहित व रिंकू को काबू करते हुए कोर्ट में पेश किया गया है. जबकि दो अन्य आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं. डीएसपी ने बाइक सवार गर्वदीप के साथ बैठी युवती के बारे में कुछ भी बताने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस आगामी कार्रवाई करेगी.

Tags: Charkhi dadri news, Haryana news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें