Assembly Banner 2021

हरियाणा: सरसों की फसल में रोग लगने से किसान चिंतित, कृषि विभाग ने दी ये सलाह

लगातार बढ़ रहे तापमान के चलते सरसों की फसल पर कई तरह के रोग लगने शुरू हो गए

लगातार बढ़ रहे तापमान के चलते सरसों की फसल पर कई तरह के रोग लगने शुरू हो गए

Haryana Farmers Worried: ज्यादा गर्मी पड़ने के कारण सरसों की फसल में फफूंदी और मरोड़िया रोग लगा.

  • Share this:
चरखी दादरी. सरसों की फसल (Crop of Mustard) में फफूंदी व मरोडिय़ा आदि रोग (Disease) लगने से इस बार पैदावार पर खासा असर पड़ सकता है. पिछले दिनों से लगातार बढ़ रही गर्मी व तापमान के चलते सरसों की फसल पर कई तरह के रोग लगने शुरू हो गए. हालांकि कृषि विभाग ने फसल पर दवा का छिडक़ाव करने की सलाह दी है. साथ ही इस सबंध में कृषि अधिकारी लगातार इस मामले को लेकर गंभीर हैं.

बता दें कि इस समय तापमान में बढौतरी हो रही है और फसल पकने के कगार पर है. ज्यादा गर्मी पड़ऩे के कारण सरसों की फसल में फफंदी व मरोडिय़ा का रोग आ गया है. कई इलाकों में तो इन रोगों के कारण सरसों की फसल पर खासा असर पड़ा है. किसानों की मानें तो इन रोगों की चपेट में आने वाली सरसों की पैदावार कम होगी. वे अपनी फसल को लेकर काफी चिंतित भी हैं.

किसान जितेंद्र, बलवान सिंह व जगबीर आदि ने बताया कि हर साल की भांति अपनी फसल की अच्छी पैदावार होने को लेकर उन्होंने अपनी सरसों की फसल की बिजाई की थी. लेकिन हाल फिलहाल सरसों की फसलों में आए फफूंदी मरोडिय़ा जैसे रोगों ने पैदावार पर खासा असर पड़ेगा. बताया कि उनकी फसल में पहले भी कई रोग लगे हुए हैं और एकदम ज्यादा गर्मी पडऩे से उनकी सरसों की फसल का दाना खराब हो गया. जिससे कि किसानों को काफी हुए नुकसान की मार झेलनी पड़ेगी.



कृषि अधिकारियों से राय लेकर दवा का छिड़क़ाव करें
कृषि विभाग के एसडीओ डा. दलबीर सिंह ने बताया कि ज्यादा गर्मी पडऩे के कारण फफूंदी व मरोडिय़ा जैसे रोग सरसों की फसल पर लग जाते हैं. इस समय तापमान बढऩे से फसल पर खासा असर पड़ेगा. ऐसे में किसानों को कृषि अधिकारियों से सलाह लेकर दवा का छिडक़ाव करना चाहिए. वहीं विभाग की ओर से भी लगातार निरीक्षण किया जा रहा है. जहां इस तरह का प्रकोप की संभावना है, किसानों को जागरूक किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज