लाइव टीवी

लोकसभा चुनाव 2019: प्रत्याशी मैदान में, परिजन प्रचार में, जीत के लिए झोंकी ताकत

Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: April 30, 2019, 12:04 PM IST
लोकसभा चुनाव 2019: प्रत्याशी मैदान में, परिजन प्रचार में, जीत के लिए झोंकी ताकत
भिवानी महेंद्रग्रढ़ सीट से उतरे प्रत्याशी

भाजपा के निवर्तमान सांसद व प्रत्याशी धर्मबीर सिंह संगठन को लेकर चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं. उनके पीछे उनकी धर्मपत्नी मंजू देवी, बेटा मोहित व भाई राजबीर लाल अपनी मंडली के साथ अलग-अलग क्षेत्रों में प्रचार कर रहे हैं.

  • Share this:
प्रदेश में लोकसभा चुनाव का प्रचार में जहां प्रत्याशियों ने दिन रात एक किया हुआ है, वहीं उनकी पत्नी, मां व अन्य परिजनों ने भी चैन की नींद लेना बंद कर दिया है. चुनाव प्रचार की शुरुआत से लेकर अंतिम दिन तक वे देर रात तक अपने स्तर पर प्रचार में जुटे हुए थे. मकसद सिर्फ यही रहा कि उनके अपने जीत जाएं. भिवानी-महेंद्रगढ़ संसदीय क्षेत्र में मुख्य पार्टियों के प्रत्याशी व उनके परिजन अपनी टीम बनाकर अपनों को जीताने के लिए मैदान में दिन-रात डटे हुए हैं.

भिवानी महेंद्रगढ़ संसदीय क्षेत्र से मुख्य पार्टियों के प्रत्याशी जहां अपना दंगल संभाले हुए हैं, वहीं उनके पति-पत्नी सहित परिवार के सदस्य भी अपनी-अपनी टीमें बनाकर दिन-रात प्रचार में जुटे हुए हैं. पार्टी दिग्गजों के सामने जीत के अंतर को अधिक करने की चुनौती है, वहीं नेता पुत्र-पुत्रियों की भी परीक्षा इस चुनाव में हो रही है.

पार्टी के विजन, प्रत्याशी से मिले चुनावी मंत्र और नई सोच के जरिये प्रचार को धार दे रहे हैं. परिजनों का यह प्रचार का तरीका भी क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है. कांग्रेस की प्रत्याशी श्रुति चौधरी पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं की फौज के साथ मैदान में है. इनके चुनाव प्रचार की कमान माता व सीएलपी लीडर किरण चौधरी संभालते हुए अलग से दिन रात प्रचार में जुटी हुई हैं. साथ ही कार्यकर्ताओं और रूठे हुए लोगों को मनाने में लगातार प्रयासरत हैं.

भाजपा के निवर्तमान सांसद व प्रत्याशी धर्मबीर सिंह संगठन को लेकर चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं. उनके पीछे उनकी धर्मपत्नी मंजू देवी, बेटा मोहित व भाई राजबीर लाल अपनी मंडली के साथ अलग-अलग क्षेत्रों में प्रचार कर रहे हैं. मंजू देवी लोगों के बीच सांसदकाल में काफी काम करवाने के अलावा सर्वे का भी हवाला देती हैं. राजबीर लाला तो रातभर रूठों को मनाने व दूसरी पार्टियों के कार्यकर्ताओं को अपने पाले में लाने की कमान संभाले हैं.

इस सीट पर जजपा पार्टी से चुनाव लड़ रही युवा नेता स्वाति यादव पार्टी हाईकमान अनुसार अपने प्रचार में जुटी हुई हैं. स्वाति के प्रचार की कमान उनके पिता व महेंद्रगढ़ जिले के जजपा जिलाध्यक्ष सतबीर न्यौताना संभाले हैं. पिता सतबीर न्यौताना स्वाति के प्रचार दौरों से पूर्व पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ माहौल बनाकर प्रचार कर रहे हैं. साथ ही स्वाति की माता सरला देवी व छोटे भाई नितिन अपनी मंडलियों के लिए दिन-रात प्रचार में जुटे हैं.

इनेलो के प्रत्याशी फौजी बलवान सिंह के साथ उनकी पत्नी कविता यादव चुनाव प्रचार में ताकत झोंकें हैं. तो फौजी के पिता आर्मी रिटायर्ड लाला राम, माता रेशमी देवी सहित सास-ससुर को ग्रामीण क्षेत्रों में अलग-अलग स्तर पर प्रचार की बागडोर संभाले हैं.

एलएसपी-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी रमेश राव पायलट प्रचार के लिए पार्टी नेताओं के साथ मैदान संभाले हैं. उनके पीछे उनकी पत्नी सुमन अपने छोटे बच्चों को घर छोडक़र महिला मंडली के साथ गांव-गांव प्रचार में लगी हैं. साथ ही पिता सत्यपाल इंजीनियर व भाई-भतीजों की अलग-अलग टीमें बनाकर प्रचार में उतारा है.ये भी पढ़ें-

जेल से बाहर आना चाहती है हनीप्रीत, जमानत के लिए हाइकोर्ट में लगाई गुहार

PHOTOS: बसपा और लोजपा की रैली के दौरान पार्किंग में खड़ी कार में लगी आग

लोकसभा चुनाव: विराट कोहली 12 मई को गुरुग्राम में करेंगे मतदान, शेयर की अपनी वोटर आईडी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चरखी दादरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 30, 2019, 12:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर