510 प्राइवेट बसों के टेंडर रद्द करने का फैसला वापस लेने पर भड़के रोडवेजकर्मी

रोडवेज कर्मचारी दादरी बस स्टैंड पर एकत्रित हुए और वर्कशाप में गेट मीटिंग की. मीटिंग के बाद कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया और बस स्टैंड पर दो घंटे का धरना दिया

Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: September 11, 2019, 11:21 AM IST
510 प्राइवेट बसों के टेंडर रद्द करने का फैसला वापस लेने पर भड़के रोडवेजकर्मी
प्रदर्शन करते रोडवेजकर्मी
Pardeep Sahu
Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: September 11, 2019, 11:21 AM IST
चरखी दादरी. रोडवेज बेड़े में 510 प्राइवेट बसों (Private Buses) को शामिल करने के टेंडर रद्द करने का सरकार द्वारा फैसला वापस लेने के खिलाफ रोडवेज कर्मचारी (Roadways Workers) भड़क़ गए हैं. तालमेल कमेटी के सदस्य रणबीर गहलौत की अगुवाई में हुए प्रदर्शन के दौरान कर्मचारियों ने अल्टीमेटम दिया कि अगर फैसला वापस नहीं लिया गया तो कर्मचारी फिर से हड़ताल पर जा सकते हैं. वहीं कर्मचारियों ने चेताया कि 22 सितम्बर को पानीपत के इसराना में परिवहन मंत्री के निवास पर रोष प्रदर्शन करके बड़ा आंदोलन की भी घोषणा की जा सकती है.

रोडवेज कर्मचारी दादरी बस स्टैंड पर एकत्रित हुए और वर्कशाप में गेट मीटिंग की. मीटिंग के बाद कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया और बस स्टैंड पर दो घंटे का धरना दिया. प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे तालमेल कमेटी के सदस्य रणबीर गहलौत, डिपो प्रधान राजेश रावलधी व कृष्ण ऊण ने संयुक्त रूप से कहा कि रोडवेज की 18 दिन हुई हड़ताल के बाद सरकार व मु

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चरखी दादरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 11:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...