अमित शाह का फर्जी लेटर हेड बनवाकर चाचा को दिलवाना चाहता था BJP टिकट, हुआ गिरफ्तार
Charkhi-Dadri News in Hindi

अमित शाह का फर्जी लेटर हेड बनवाकर चाचा को दिलवाना चाहता था BJP टिकट, हुआ गिरफ्तार
पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज किया

चरखी दादरी में हरियाणा पुलिस के जवान ने अपने चाचा को विधायक बनाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नाम का फर्जी लेटर हेड कम्प्यूटर शॉप से 40 रूपये देकर बनवाया था.

  • Share this:
चरखी दादरी. हरियाणा के चरखी दादरी (Charkhi Dadri) में पुलिस (Haryana Police) के एक जवान द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) के नाम का फर्जी लेटर हेड (Fake letter Head) बनवाने का मामला सामने आया है. आरोपी जवान ने दादरी की एक मार्केट में कंप्यूटर शॉप (Computer shop) से 40 रूपये देकर इसे बनवाया था. पूछताछ में उसने बताया कि वो गांव सांवड़ निवासी अपने चाचा को दादरी विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी का टिकट दिलाना चाहता था इसके लिए उसने ये फर्वीवाड़ा किया था. रिमांड के दौरान आरोपी पुलिसकर्मी गोपाल और उसके चाचा हरिओम भारद्वाज ने ये खुलासा किया.

पुलिस ने कंप्यूटर शॉप संचालक से हार्ड डिस्क अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से न्यायिक हिरासत मिलने के बाद उन्हें झज्जर जेल भेज दिया.

चाचा को विधायक बनाने  के लिए बनाया था फर्जी लेटर



दरअसल बीते 10 सितंबर को डीएसपी गुप्तचर विभाग रोहतक के नेतृत्व में पुलिस ने गोपाल और उसके चाचा हरिओम को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने डीएसपी की शिकायत पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के नाम का फर्जी लेटर हेड बनाकर सीएम का सौंपने के मामले में आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471, 120 बी और 201 के तहत मुकदमा दर्ज किया था. बाद में पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर लिया. रिमांड अवधि के दौरान पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर चरखी दादरी के कंप्यूटर सेंटर पर रेड डालकर वहां से हार्ड डिस्क और कंप्यूटर को अपने कब्जे में लिया.
बौन्द कलां पुलिस ने दोनों आरोपियों को किया गिरफ्तार
बौन्द कलां पुलिस ने दोनों आरोपियों को किया गिरफ्तार


कंप्यूटर सेंटर में बनवाया था फर्जी लेटर हेड

पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ कि आरोपियों ने कंप्यूटर सेंटर संचालक के पास बैठकर फर्जी लेटर हेड सिर्फ 40 रूपये में तैयार करवाया था. आरोपी गोपाल ने पूर्व में अपने परिजनों को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह के साथ संबंध होने की बात कही थी. आरोपी ने बताया कि वर्ष 2014 में उसने जय शाह से मुलाकात की थी, लेकिन पुलिस ने उसकी कही बातों को सिरे से नकार दिया. थाना प्रभारी हुकमचंद ने बताया कि अमित शाह के नाम से तैयार फर्जी लेटर हेड में आने वाले हरियाणा विधानसभा चुनाव में बीजेपी टिकट की सिफारिश की गई थी, लेकिन वो पत्र किसी तरह गुप्तचर विभाग के हाथ लग गया. जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी चाचा-भतीजा को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें- टिकट लेने के लिए अमित शाह के फर्जी लेटर हेड पर सीएम खट्टर को लिखा खत, चाचा-भतीजा गिरफ्तार

यह भी पढ़ें:  आंबाला कैंट बस स्टैंड में खड़ी प्राइवेट बस चोरी, CCTV में कैद हुई वारदात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज