Home /News /haryana /

राकेश टिकैत की बात मान किसान ने 2 एकड़ मटर की फसल पर चलाया ट्रैक्टर, बोला- ये सरकार के लिए चेतावनी

राकेश टिकैत की बात मान किसान ने 2 एकड़ मटर की फसल पर चलाया ट्रैक्टर, बोला- ये सरकार के लिए चेतावनी

चरखी दादरी में किसान ने अपनी फसल पर चलाया ट्रैक्टर.

चरखी दादरी में किसान ने अपनी फसल पर चलाया ट्रैक्टर.

Kisan Andolan: हरियाणा के चरखी दादरी (Charkhi Dadri News) के एक किसान ने अपनी खड़ी फसल पर ट्रैक्टर चलाकर उसे नष्ट कर दिया. किसान का  कहना है कि उसे फसल का सही दाम नहीं मिल रहा है.

चरखी दादरी. केंद्र सरकार क् तीन कृषि कानूनों (Agriculture Law) के विरोध में किसानों का आंदोलन पूरे देश में जारी है. कृषि कानूनों के विरोध में किसान लंबे समय से आंदोलन (Farmers Protest) कर रहे हैं, लेकिन सरकार अपने फैसले से पीछे हटने को तैयार नहीं है. कृषि कानूनों के विरोध में दादरी के गांव ढाणी फौगाट के एक किसान राजेंद्र ने मटर की हरी-भरी लहलहा रही खड़ी फसल पर ट्रैक्टर चला दिया और फसल को नष्ट कर दिया. फसल नष्ट करने के मामले में किसान राजेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार उनकी फसल का उचित दाम नहीं दे रही है.

किसान का कहना है कि तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान लगातार आंदोलन कर रहे हैं. मगर सरकार किसी की भी नहीं सुन रही है. जैसे भाकियू नेता राकेश टिकैत ने कहा था कि अपने खाने के लिए उपज को छोडक़र बाकी पर ट्रैक्टर चला दें. हमने आज अपनी करीब दो एकड़ मटर की खड़ी फसल को नष्ट कर दिया है.

दो एकड़ फसल किया नष्ट

किसान राजेंद्र का कहना है कि उसके परिवार ने भी साथ दिया और कृषि कानूनों का विरोध किया. किसान राजेंद्र सिंह ने बताया कि उसने करीब दो एकड़ पर मटर की खेती की थी. मटर तैयार हो चुकी थी  और बेचने की तैयारी में थे. लेकिन किसानों के समर्थन में उसने करीब दो लाख रुपए की मटर की खेती को बेचने की बजाए नष्ट करना उचित समझा. उनका का कहना है कि हम चाहते हैं किसानों की ये आवाज सरकार तक पहुंचे और समाधान करें. वहीं परिवार की बेटी मीनल ने कहा कि अब मटर की खेती पर ट्रैक्टर चलाया है. भविष्य में गेहूं की फसल को भी नष्ट कर देंगे. सिर्फ परिवार खर्च के लिए ही अनाज उगाएंगे.

Tags: Charkhi Dadri, Farmer Protest, Haryana news, Kisan Andolan, Rakesh Tikait

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर