हरियाणा: सरसों की कालाबाजारी पर अंकुश के लिए बड़ी कार्रवाई, 15 तेल मिलों पर छापे

पांच टीमों का गठन कर की गई छापेमारी

पांच टीमों का गठन कर की गई छापेमारी

Haryana News: हरियाणा में सरसों की सरकारी खरीद शुरू होते ही कालाबाजारी की शिकायतों पर सतर्क हुआ प्रशासन. छापेमारी से तेल मिल मालिकों में मचा हड़कंप. जिला कलेक्टर को सौंपी जाएगी जांच रिपोर्ट.

  • Share this:
चरखी दादरी. सरकारी खरीद शुरू होने के साथ ही सरसों की कालाबाजारी पर अंकुश लगाने के लिए जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है. डीसी राजेश जोगपाल ने पांच टीमों का गठन कर तेल मिलों के निरीक्षण के निर्देश दिए थे. जिस पर टीमों ने जिलेभर के 15 तेल मिलों पर छापेमार कार्रवाई करते हुए सरसों व तेल का स्टॉक व अन्य रिकार्ड की जांच की. टीमों की कार्रवाई की रिपोर्ट 5 अप्रैल को डीसी को सौंपी जाएगी. उसके आधार पर प्रशासन अगली कार्रवाई करेगा.

सरकारी खरीद शुरू होने के साथ ही सरसों की कालाबाजारी की शिकायतें आनी शुरू हो गई थी. जिले में तेल मिलों द्वारा मंडी से बाहर ही किसानों की सरसों खरीदकर मार्केट फीस व जीएसटी चोरी की जा रही थी. इस आधार पर डीसी राजेश जोगपाल ने तहसीलदार, नायब तहसीलदार, बीडीपीओ व अन्य प्रशासिनक अधिकारियों की अध्यक्षता में पांच टीमों का गठन किया. टीम में खाद्य आपूर्ति, सेल्स टैक्स व मार्केट कमेटी के अधिकारियों को शामिल किया गया था.

पांचों टीमों ने दादरी शहर, कनीना रोड, ढाणी रोड, झोझू व बाढड़ा क्षेत्रों में एक साथ बड़े स्तर पर छापेमारी की . जिलेभर में एकसाथ बड़े स्तर पर की गई छापेमारी कार्रवाई के दौरान तेल मिल मालिकों में हड़कंप मच गया. टीमों ने तेल मिलों में सरसों व तेल के स्टॉक व अन्य रिकार्ड जांच और दस्तावेज कब्जे में लिए. टीमों द्वारा की गई निरीक्षण रिपोर्ट सोमवार को डीसी को सौंपी जाएगी.

ये रहे टीम के इंचार्ज
डीसी द्वारा बनाई गई टीमों में दादरी बीडीपीओ सुभाष चंद, बाढड़ा बीडीपीओ युद्धबीर सिंह, तहसीलदार जोगेन्द्र सिंह, नायब तहसीलदार नरेंद्र कुमार व नायब तहसीलदार शेखर कुमार इंचार्ज थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज