शहीद भूपेंद्र सिंह चौहान का पार्थिव शरीर सोमवार को पहुंचेगा चरखी दादरी, 18 महीने पहले हुई थी शादी
Charkhi-Dadri News in Hindi

शहीद भूपेंद्र सिंह चौहान का पार्थिव शरीर सोमवार को पहुंचेगा चरखी दादरी, 18 महीने पहले हुई थी शादी
भूपेंद्र सिंह चौहान का पार्थिव शरीर सोमवार को उनके गांव चरखी दादरी हरियाणा पहुंचेगा.

जम्मू-कश्मीर के बारामुला में आतंकियों से लोहा लेते शहीद (Martyr) होने वाले जवान भूपेंद्र सिंह चौहान (Bhupendra Singh Chauhan) का पार्थिव शरीर सोमवार को उनके गांव चरखी दादरी (Charkhi Dadri) हरियाणा पहुंचेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2020, 9:00 PM IST
  • Share this:
चरखी दादरी. जम्मू-कश्मीर के बारामुला में आतंकियों से लोहा लेते शहीद (Martyr) होने वाले जवान भूपेंद्र सिंह चौहान (Bhupendra Singh Chauhan) का पार्थिव शरीर सोमवार को उनके गांव चरखी दादरी (Charkhi Dadri) हरियाणा पहुंचेगा. उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा के नौगाम सेक्टर में पाकिस्तान द्वारा की गई गोलाबारी में 22 साल के भूपेंद्र सिंह चौहान शहीद हो गए थे. भूपेंद्र के शहीद होने की सूचना मिलते ही उनके परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया. पूरे गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है. शहीद के घर आने-जाने वालों का तांता लगा है. 18 महीने पहले ही भूपेन्द्र की शादी हुई थी. भूपेन्द्र को एक छह महीने का बेटा है.

18 महीने पहले ही शादी हुई थी
भूपेन्द्र सिंह अपने लाडले बेटे से एक ही बार मिल पाए. शहीद का छोटा भाई दीपक भी फौज में भर्ती होने के लिए तैयारियां कर रहा है. भूपेंद्र शुक्रवार रात को बारामुला में आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के तीन जवानों में से एक थे. चरखी दादरी जिले के गांव बास के भूपेन्द्र सिंह चौहान की शहादत पर पूरे गांव सन्नाटा पसरा है. उनकी शहादत की खबर गांव में पहुंचने के बाद से यंहा शोक की लहर है. शहीद के घर सांत्वना देने वालों का तांता लगा है.

Haryana news, indian army, young man martyr of Charkhi Dadri, soldier Shaheed, Pakistan firing in kashmir, haryana soldier Shaheed, bhupender singh Chauhan Shaheed, भूपेन्द्र सिंह चौहान, बारामुला, शहीद, गांव में पसरा सन्नाटा, सोमवार को पहुंचेगा पार्थिव शरीर, आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद, हरियाणा का जवान शहीद, चरखी दादरी का बेटा शहीद, भूपेंद्र चौहान शहीद,भूपेंद्र शुक्रवार रात को बारामुला में आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के तीन जवानों में से एक थे.
भूपेंद्र शुक्रवार रात को बारामुला में आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के तीन जवानों में से एक थे.

पूरे गांव में शोक की लहर


भूपेन्द्र सिंह का पार्थिव शरीर सोमवार को गांव में पहुंचेगा. गांव में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा. चरखी दादरी जिले के गांव बास (रानीला) के किसान मलखान का 22 वर्षीय बेटा भूपेन्द्र सिंह चौहान जम्मू-कश्मीर में तैनात था. आतंकवादियों ने सेना की चेक पोस्ट को मोर्टार दागा, जिसमें भूपेन्द्र सहित तीन जवान शहीद हो गए.

ये भी पढ़ें: 5 महीने बाद फिर से दिल्‍ली मेट्रो पकड़ेगी रफ्तार, कल से सवारी करना कुछ इस तरह से बदल जाएगा

शहीद के पार्थिव शरीर को रविवार सुबह श्रीनगर में श्रदांजलि दी गई. इसके बाद में विमान से नई दिल्ली पार्थिव शरीर भेजा जाएगा. वंहा पर वॉर मेमोरियल में श्रदांजलि दी जाएगी. इसके बाद सोमवार को शहीद का पार्थिव शरीर गांव पहुंचेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज