होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणाः खापें भी हुई एकजुट, किसान आंदोलन दोबारा शुरू करने का दिया अल्टीमेटम

हरियाणाः खापें भी हुई एकजुट, किसान आंदोलन दोबारा शुरू करने का दिया अल्टीमेटम

हरियाणा की खाप पंचायतें एक बार फिर से किसान आंदोलन शुरू करने के मूढ में हैं.

हरियाणा की खाप पंचायतें एक बार फिर से किसान आंदोलन शुरू करने के मूढ में हैं.

Kisan Andolan: फौगाट खाप प्रधान बलवंत नंबरदार व सांगवान खाप सचिव नरसिंह डीपी ने संयुक्त रूप से कहा कि केंद्र सरकार ने क ...अधिक पढ़ें

चरखी दादरी. हरियाणा की खाप पंचायतें एक बार फिर से किसान आंदोलन शुरू करने के मूढ में हैं. सरकार की घोषणा के बाद भी एमएसपी लागू नहीं करने, बिजली विधेयक बिल में संसोधन सहित किसानों को पांच हजार प्रति माह पेंशन देने की मांग को लेकर आधा दर्जन पंचायत खापों ने कर्मचारी व किसान संगठनों के साथ रणनीति बनाई और एडीसी को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा. साथ ही अल्टीमेटम दिया कि खाप पंचायतें, किसानों और  कर्मचारियों के साथ मिलकर फिर से बड़ा आंदोलन करेंगी और यह आंदोलन इस बार आर-पार का होगा.

खाप प्रतिनिधि दादरी के लघु सचिवालय परिसर में पहुंचे और किसानों से संबंधित कई मुद्दों पर चर्चा करते हुए रणनीति बनाई. इस दौरान फौगाट, सांगवान, श्योराण, हवेली, सतगामा, पंवार सहित कई खापों के प्रतिनिधियों के अलावा कर्मचारी व किसान संगठनों के पदाधिकारी एकजुट हुए. सर्वसम्मति से निणर्य लिया कि मांगें पूरी करवाने बारे पहले राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेंगे. साथ ही कहा कि सरकार द्वारा एमएसपी की मांग को पूरा नहीं करने पर पहले की अपेक्षा बड़ा किसान आंदोलन शुरू किया जाएगा. इस बार किसानों के साथ खापें मिलकर आर-पार की लड़ाई लडेंगे. खापों ने एडीसी अनुराग ढालिया को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा.

एक साल बाद भी धरातल पर नहीं मांगें

फौगाट खाप प्रधान बलवंत नंबरदार व सांगवान खाप सचिव नरसिंह डीपी ने संयुक्त रूप से कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों की एमएसपी की मांग को मान लिया था लेकिन एक वर्ष बाद भी उसे धरातल पर लागू नहीं किया. बिजली विधेयक बिल को निरस्त करने सहित किसानों को पांच हजार रुपए की पेंशन की मांग को लेकर इस बार बड़ा किसान आंदोलन शुरू करते हुए आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी.

Tags: Farmer Agitation, Kisan Aandolan

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें