होम /न्यूज /हरियाणा /

अधिकारी अपना कार्य करें, अन्यथा उनसे काम करवाना मुझे आता है: नैना चौटाला

अधिकारी अपना कार्य करें, अन्यथा उनसे काम करवाना मुझे आता है: नैना चौटाला

नैना चौटाला कस्बा झोझू कलां के महिला कॉलेज में आयोजित जनता दरबार में जनसमस्याएं सुनने पहुंची थीं.

नैना चौटाला कस्बा झोझू कलां के महिला कॉलेज में आयोजित जनता दरबार में जनसमस्याएं सुनने पहुंची थीं.

जजपा (JJP) नेत्री व बाढड़ा की विधायक नैना चौटाला (Naina Chautala) ने कहा कि अधिकारी अपने कार्य के प्रति सर्तकता बरतें, अन्यथा उन्हें अधिकारियों से कार्य करवाने आते हैं. नैना चौटाला ने कहा कि जनसमस्याओं का निपटारा करने में कोताही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...
चरखी दादरी. जजपा (JJP) नेत्री व बाढड़ा की विधायक (MLA) नैना चौटाला (Naina Chautala) ने कहा कि अधिकारी अपने कार्य के प्रति सर्तकता बरतें, अन्यथा उन्हें अधिकारियों से कार्य करवाने आते हैं. नैना चौटाला ने कहा कि जनसमस्याओं का निपटारा करने में कोताही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. नैना चौटाला शनिवार को कस्बा झोझू कलां के महिला कॉलेज में आयोजित जनता दरबार में जनसमस्याएं सुनने के बाद मीडिया से रूबरू हुई. इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्ष के कार्यकाल के दौरान क्षेत्र में विकास सही ढंग से नहीं हो पाया, जिसके चलते जनता में भी रोष है. अभी उसे दो महीने हुए हैं, हम विकास करवाकर दिखाएंगे और पिछली योजना की कसर पूरी कर देंगे.

मैं जनता की सेवा के लिए ही राजनीति में आई हूं: नैना

नैना चौटाला ने कहा कि वह जनता की सेवा के लिए राजनीति में आई हैं. अब यहां की जनता के कार्य चंडीगढ़ नहीं बल्कि घर द्वार पर ही समस्याओं का निपटारा करेंगे. आने वाले 6 महीने में उनके क्षेत्र में विकास कार्य शुरू हो जाएंगे. नैना चौटाला ने कहा कि जनता दरबार में आने वाली सभी शिकायतों का हर संभव समाधान हो, इसके लिए अधिकारियों को निर्देश भी जारी किए हैं.

जनता के कार्य पूरा करने के लिए नैना ने दिए अधिकारियों को निर्देश

उन्होंने कहा कि उसके बेटे व उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के साथ मिलकर क्षेत्र में विकास के लिए आयाम स्थापित करने के लिए योजनाएं बनाकर कार्य करेंगे. जनता दरबार में करीब तीन दर्जन ग्राम पंचायतों के अलावा आमजन की समस्याएं सुनी और मौके पर ही निदान बारे अधिकारियों को निर्देश दिए.

यह भी पढ़ें: हरियाणा: ग्राम पंचायतों को मिले शराब ठेके खोलने और बंद करने के ​अधिकार

सोनीपत के इस स्कूल में ​पहुंचे डिप्टी DEO, ना छात्र और न ही शिक्षक मिले

Tags: Charkhi Dadri, Haryana news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर