26 मार्च को भारत बंद की तैयारी, फौगाट खाप ने बनाई रणनीति, कई संगठनों का मिला समर्थन

फौगाट खाप की अगुवाई में बनाई भारत बंद की रणनीति.

26 मार्च को होने वाले भारत बंद को लेकर कर्मचारी, व्यापारी व सामाजिक संगठनों ने रणनीति बनाई. इस दौरान दादरी को पूर्णतय बंद करने के लिए ड्यूटियां भी निर्धारित की गईं. साथ ही निर्णय लिया कि कृषि कानूनों को रद्द करवाने के लिए एकजुट होकर लगातार लड़ाई लड़ेंगे.

  • Share this:
    प्रदीप साहू

    चरखी दादरी. कृषि कानूनों के विरोध में फौगाट खाप (Faugat Khap) की अगुवाई में किसानों के साथ कई संगठनों ने हुंकार भरी है. 26 मार्च को होने वाले भारत बंद (Bharat Bandh) को लेकर कर्मचारी, व्यापारी व सामाजिक संगठनों ने रणनीति बनाई. इस दौरान दादरी को पूर्णतय बंद करने के लिए ड्यूटियां भी निर्धारित की गईं. साथ ही निर्णय लिया कि कृषि कानूनों (Agricultural Law) को रद्द करवाने के लिए एकजुट होकर लगातार लड़ाई लड़ेंगे. भारत बंद को सफल बनाने के लिए खाप की ओर से तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है.

    दादरी के स्वामी दयाल धाम पर आयोजित मीटिंग की अध्यक्षता फौगाट खाप प्रधान बलवंत नंबरदार ने की. मीटिंग में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर आंदोलन को तेज करने का निर्णय लिया. साथ ही शहीदी दिवस कार्यक्रम व भारत बंद को लेकर मंथन किया गया. मीटिंग में चर्चा के बाद भारत बंद के दिन दादरी शहर पूर्णतय बंद करने का फैसला लिया. जिसमें सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक शहर व कस्बे के बाजार बंद करेंगे. बंद को व्यापार मंडल का भी समर्थन है. व्यापार मंडल के साथ सामाजिक संगठनों द्वारा शांतिपूर्ण बंद करवाया जाएगा. इस दौरान कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भी सौंपा जाएगा. मीटिंग में सांगवान, फौगाट, श्योराण खाप प्रतिनिधियों के अलावा किसान, सामाजिक, व्यापारी व कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया.

    किसान नेता राजू मान ने बताया कि शहीद दिवस व भारत बंद को लेकर सर्वसम्मति से निर्णय लिए गए हैं. कृषि कानूनों के विरोध में आमजन के साथ मिलकर 26 मार्च के बंद को पूर्णतय सफल बनाया जाएगा. इसके लिए जिम्मेदारियां भी लगाई हैं. किसान अपना शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन को बढ़ा रहे हैं. सरकार को मजबूर होकर कृषि कानूनों को रद्द करना पड़ेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.