निजी बस संचालकों ने रक्षाबंधन पर महिलाओं को बीच रास्ते उतारा, जांच का आदेश
Charkhi-Dadri News in Hindi

निजी बस संचालकों ने रक्षाबंधन पर महिलाओं को बीच रास्ते उतारा, जांच का आदेश
टिकट के पैसे मांगने पर विरोध करती महिलाएं

दादरी शहर से निकलते ही बस के परिचालक द्वारा जब महिलाओं से टिकट के पैसे मांगे तो महिलाओं ने विरोध कर दिया.

  • Share this:
राखी पर्व के दिन प्रदेश सरकार द्वारा रोडवेज और परिवहन समिति की निजी बसों में महिलाओं को दो दिन तक निशुल्क यात्रा करने के आदेशों की निजी बस संचालकों ने धड़ल्ले से उल्लंघना की. दादरी बस स्टैंड पर रोडवेज अधिकारियों ने महिलाओं को निजी बस में बैठाकर सरकार की घोषणा अनुसार, निशुल्क ले जाने की बात कही. बावजूद इसके निजी बस संचालकों ने महिलाओं को झज्जर रोड पर बीच रास्ते में ही पैसे मांगे. पैसे नहीं देने पर उन्हें बस से उतार दिया.

पूरे मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. वायरल वीडियो जब सरकार तक पहुंचा तो इस पर संज्ञान लिया. कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने वीडियो वायरल पर संज्ञान लेते हुए पूरे मामले की जांच दादरी के एसडीएम को सौंपी. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं और जांच में जो  दोषी निकलेगा उसपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

राम रहीम के समर्थकों ने किया डाक विभाग की नाक में दम, जानिए क्या है वजह



दरअसल परिवहन समिति की निजी बस रक्षाबंधन के दिन दादरी बस स्टैंड से झज्जर के लिए चली थी. सरकार द्वारा निजी व रोडवेज बसों में दो दिन महिलाओं और 15 वर्ष तक के बच्चों को निशुल्क परिवहन सेवाएं उपलब्ध कराने की घोषणा की थी. रविवार रक्षाबंधन के दिन दादरी बस स्टैंड से निजी बस में रोडवेज अधिकारियों ने घोषणा अनुसार महिलाओं और छोटे बच्चों को बैठाया था और निशुल्क ले जाने की बात कही थी.
निजी बस द्वारा महिलाओं व बच्चों को यहां से झज्जर के लिए ले गए. दादरी शहर से निकलते ही बस के परिचालक द्वारा जब महिलाओं से टिकट के पैसे मांगे तो महिलाओं ने विरोध कर दिया. इस दौरान बस संचालकों द्वारा महिलाओं को बीच रास्ते में ही उतार दिया. काफी देर तक हंगामा जारी रहा. वहीं कुछ महिलाओं ने टिकट के पैसे दिए तो उनको मंजिल तक ले जाया गया.

यह भी पढ़ें- मुर्रा नस्ल की भैंस का दूध पीकर विनेश-बबीता लाएंगी ओलंपिक में गोल्ड

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading